Corona Virus | तिसरी लहर से पहले जिला प्रशासन अलर्ट मोड पर, जिले में 97.35 मेट्रीक टन ऑक्सीजन का संग्रह किया


Coronavirus

यवतमाल.जिले में कोरोना महामारी के नियंत्रण में जुटी प्रशासनिक और सरकारी यंत्रणा पर अब भी कामों का बोझ समाप्त नही हुआ है, और ना ही नागरिकों पर कोरोना से बचने लागु निर्बंध पुरी तरह कम किए गए है.

इसी दौरान संभावित तौर पर कोरोना की तिसरी लहर की आशंका के बाद सरकार ने जिला प्रशासन को अलर्ट मोड पर रखा है. कोरोना का प्रभाव रोकने और संभावित नए वैरिएंट से बचाव के लिए यात्रा और भीडभाडवाले स्थानों पर प्रवेश के लिए सरकार ने कोविड डोज लेना अनिवार्य किया है.

आज 27 नवंबर को राज्य सरकार ने नए निर्बंध से जुडी नियमावली जारी की, जिसे यवतमाल जिले में भी लागु किया जाएंगा.इस दौरान यात्रा बसों में प्रवेश के लिए कोविड के दोनो डोज लेनेवालों को प्राथमिकता देने समेत मॉल, सभागृह, थिएटर पर प्रवेश के लिए भी जिले में इन नियमों को लागु किया का सकता है, हालांकी जिला प्रशासन द्वारा इस बारे में फिलहाल सुचना जारी नही की गयी थी. लेकिन सरकारी निर्देशों के बाद जिला प्रशासन और स्वास्थ्य यंत्रणा ने संभावित लहर को ध्यान में लेकर उपाययोजनाएं शुरु कर दी है.

जिले के पालकमंत्री, जिलाधिकारी के नेतृत्व में शहरी और ग्रामीण अस्पतालों में ऑक्सीजन का संग्रह, प्लांट की व्यवस्था करने समेत बेडस की संख्या बढाने पर जोर दिया जा रहा है, जनप्रतिनिधियों के पहल पर वेंटीलेटर, ऑक्सीजन की आपूर्ति, अन्य स्वास्थ्य उपकरणों की व्यवस्था की गयी है,परिणामस्वरुप जिले में फिलहाल बेड और आक्सीजन पर्याप्त तौर पर उपलब्ध की गयी है.

संभावित तिसरी लहर की तैयारी के तौर पर प्रशासन और स्वास्थ्य यंत्रणा द्वारा जिले में 97.35 मेट्रीक टन ऑक्सीजन का संग्रह किया गया है, इसके अलावा आगामी दिनों में 21.95 मे.टन आक्सजीन क्षमता निर्माण करने का प्लॉन बनाया गया है.

बता दें की जिले में कोरोना की दुसरी लहर के दौरान 22 मेट्रीक टन ऑक्सीजन का ईस्तेमाल किया गया था.इसी बीच कोरोना का प्रभाव रोकने और बाधितों को तात्काल सहायता मिलें इसके लिए जिले में हर प्राथमिक केंद्र कों एम्ब्युलेंस उपलब्ध करवायी गयी है, एैसी जानकारी प्रशासन ने दी है.

14 लाख 75 हजार को पहला डोज

6 लाख 65 हजार नागरिकों लगाया कोविड का दुसरा टिका

कोरोना रोकने एकमात्र विकल्प के तौर कोविड डोज देने का अभियान चलाया जा रहा है. जिले में अब तक 14 लाख 75 हजार नागरिकों को कोविड का पहला और 6 लाख 65 हजार नागरिकों ने दुसरा डोज लिया है. वर्तमान में कोरोना का प्रभा वजिले में कम है, लेकिन कोरोना मुक्त नही हुआ है, कम अधिक पैमाने पर तहसीलों में कोरोना बाधित मरीज पाए जा रहे है.

इसके अलावा विदेशों में कोरोना विषाणु के नए वैरिएंट मजबुत होने की खबरें आने से इसका खतरा टला नही है, जिससे नागरिकों को कोविड डोज लेने और आवश्यक उपाययोजनाएं अपनाने की जानकारी जिला और स्वास्थ्य प्रशासन यंत्रणा ने दी है.

इसी बीच पालकमंत्री संदिपान भुमरे, जिलाधिकारी अमोल येडगे स्वास्थ्य यंत्रणा को मजबुत करने में जुटे है, जिलापरिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी डा.श्रीकृष्ण पांचाल के मार्गदर्शन में ग्रामीण ईलाकों में स्वास्थ्य यंत्रणा में मुलभुत सुविधाओं को अपडेट करने का कार्य किया जा रहा है.





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

AllwNews