Yavatmal Crime | सचिन येडा समेत 5 कुख्यात आरोपियों के खिलाफ मोक्का की कार्रवाई


MCOCA

  • गंभीर अपराधों में नामजद है सभी आरोपी
  • विभीन्न शहरों में संगठीत अपराधों से मचा रहे थे दहशत
  • अपर पुलिस महासंचालक की मंजुरी के बाद विशेष न्यायालय में दर्ज की चार्जशिट

यवतमाल. यवतमाल जिले समेत राज्य के विभीन्न पुलिस थानों में नामजद और अपराधीक गतिविधीयों में लिप्त सचिन उर्फ येडा समेत 5 कुख्यात अपराधीयों पर यवतमाल पुलिस विभाग ने संगठीत अपराधीक गतिविधियों में लिप्त इन आरोपीयों के खिलाफ मोक्का की कारवाई की है.आज 28 मई को इस बारे में आदेश जारी किए गए.

बता दें की संगठीत अपराधों पर नकेल कसने के लिए टाडा कानून की तर्ज पर राज्य में 1999 में महाराष्ट्र संगठीत अपराध प्रतिबंधक एक्ट यानी मोक्का बनाया गया था.मोक्का के तहत आर्णी में मोक्का के तहत नामजद हुए इन 5 आरोपीयों पर अब मोक्का के विशेष कोर्ट में कारवाई होंगी.राज्य के अपर पुलिस महासंचालक द्वारा इन आरोपीयों के खिलाफ मोक्का कानुन के तहत कारवाई को मंजुरी के बाद आज 28 मई कों इन आरोपीयों पर मोक्का के तहत कारवाई की गयी है.

इसी बीच जिले में अपराधीक पृष्ठभूमीवाले और कुख्यात अपराधीयों पर अंकुश लगाने के लिए पुलिस के पास प्रभावी कानूनों का ईस्तेमाल शुरु किया है. जिससे अपराधीयों में हडकम्प मच चुका है.इसी बीच जिला पुलिस अधिक्षक डा.दिलीप पाटील भुजबल ने जिले के सभी पुलिस थानों और उपविभागीय पुलिस अधिकारीयों कों उनकी सीमा में कुख्यात अपराधीयों को सही राह पर लाने के लिए एमपीडीए,तडीपारी और मोक्का के तहत कारवाई करने के आदेश दिए है.

यवतमाल पुलिस द्वारा मोक्का कानून के तहत कारवाई हुए इन कुख्यात आरोपीयों में सचिन उर्फ येडा छगन राठोड 25 निवासी जामनकर नगर यवतमाल,शुभम सुभाष जोगदंड 22 निवासी पांढरी तहसील यवतमाल,यश साहेबराव राऊत 20 निवासी अप्सरा टॉकीज के पिछे यवतमाल,रोहन गणेश इंगले 19 निवासी जवला तहसील आर्णी तथा करण प्रेमदास पवार 23 निवासी जामनकर नगर यवतमाल का समावेश है.

इन आरोपीयों द्वारा 1 दिसंबर 2021 को आर्णी पुलिस थानाक्षेत्र के तहत आनेवाले बोरी तुलजापुर राष्ट्रीय महामार्ग पर बोलेरो पिकअप चालक से 25 हजार रुपए लुटे गए थे, इस मामलें में आर्णी थाने में उनके खिलाफ धारा 394,395,341,367,324,506 भादंवी समेत आर्मएक्ट का अपराध दर्ज किया था. इस मामलें में आर्णी पुलिस के थानेदार पितांबर जाधव के मार्गदर्शन में एपीआय नागेश जायले को जांच सौपी थी, जिसके बाद पुलिस ने इन आरोपीयों को गिरफ्तार कर लिया गया था.

पुलिस की जांच पडताल में यह सभी अपराधीक गतिविधीयों में लिप्त रहनेवाले कुख्यात आरोपी होने की जानकारी सामने आयी, इससे पहले भी उनके खिलाफ पुलिस में मामलें दर्ज होने, इनमें रोहन इंगले पर पुर्वाश्रम में फिरौती, डकैती, चोरी, हत्या का प्रयास, घातक हथीयारों की मदद से जानलेवा हमला, गैरकानूनी जमा तैयार कर दंगा करने जैसे गंभीर मामलें दर्ज है, एैसी जानकारी पुलिस ने दी.

इन आरोपीयों का रिकॉर्ड जांचने पर पुलिस थाना अवधुतवाडी, यवतमाल शहर,यवतमाल ग्रामीण उसी तरह पुणे जिले के रांजणगांव के पुलिस थाने में धारा 395,385,307,367,353,324,120 ब, 143,147,148,149 भादंवी इसके अलावा भारतीय हथियार कानून आर्मएक्ट के तहत अपराध दर्ज है. उनकी अपराधीक पृष्ठभूमी का रिकॉर्ड देखते हुए अमरावती परिक्षेत्र के पुलिस उपमहानिरीक्षक की मंजुरी के बाद इन आरोपीयों के खिलाफ MCOCA की धारा बढाकर दारव्हा के एसडीपीओ तथा सहायक पुलिस अधिक्षक आदित्य मिरखेलकर ने इन पांचों आरोपीयों के खिलाफ विस्तृत जांच की थी. इसके बाद उनके खिलाफ महाराष्ट संगठीत अपराध नियंत्रण कानून मोक्का के के तहत भी विस्तृत जांचपडताल कर उनपर कारवाई का प्रस्ताव तैयार किया था.

मोक्का के विशेष न्यायाधीश के कोर्ट में चार्जशिट फाईल 

पुलिस अधिक्षक डा.भुजबल ने इन पांचों आरोपीयों के खिलाफ उपरोक्त कानून के तहत कारवाई करने दोषारोपत्र भेजने की मंजुरी हासिल करने राज्य के अपर पुलिस महासंचालक (कानून तथा सुव्यवस्था) मुंबई को प्रस्ताव भेजा था, 26 मई को उपरोक्त सभी आरोपीयों के खिलाफ मोक्का के तहत चार्जशिट भेजने की मंजुरी दी गयी थी. जिसके तात्काल बाद 27 मई को मोक्का के विशेष न्यायाधीश के कोर्ट में चार्जशिट फाईल की गयी.

इस कारवाई को जिला पुलिस अधिक्षक डा.दिलीप पाटील भुजबल,अपर पुलिस अधिक्षक डा.खंडेराव धरणे के मार्गदर्शन में सहायक पुलिस अधिक्षक तथा दारव्हा के एसडीपीओ आदित्य मिरखेलकर के नेतृत्व में पुलिस निरीक्षक पितांबर जाधव,एलसीबी के पुलिस निरीक्षक प्रदिप परदेशी, एपीआय नागेश जायले, एपीआय विवेक देशमुख, एपीआय भगवान पायघन, पुलिस हवालदार गजानन डोंगरे, नायब पुलिस कांन्स्टेबल विनोद राठोड, दिनेश जाधव,कविश पालेकर,पुरुषोत्तम जाधव,कांन्स्टेबल मोहम्मद भगतवाले ने अंजाम दी.

एक वर्ष में 3 अपराधिक गिरोहों के खिलाफ मोक्का, 18 पर एमपीडीए की कारवाई

उल्लेखनिय है की बिते एक वर्ष में जिला पुलिस अधिक्षक डा.भुजबल के नेतृत्व में जिला पुलिस विभाग ने मोक्का कानून के तहत कुल 3 अपराधीक गिरोंह के खिलाफ कारवाई करते हुए चार्जशिट वरिष्ठ स्तर पर भेजी है,इ समें कुल 24 कुख्यात अपराधीयों के खिलाफ मोक्का जैसे प्रभावी कानून के तहत कारवाई की गयी. जिले में अब तक 18 कुख्यात अपराधीयों के खिलाफ एमपीडीए के तहत कारवाई कर अपराधीक गिरों के खिलाफ प्रभावी नियंत्रण् हासिल करने पुलिस दल ने कारवाई की है.





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

AllwNews