बिजली के साथ बारिश: कोल्हापुर में भारी बारिश:


मुख्य विशेषताएं:

  • कोल्हापुर में भारी बारिश हुई।
  • अक्टूबर में बारिश के कारण कोल्हापुर में गरवा प्रभावित हुआ।
  • कोल्हापुर के निचले इलाकों में जमा पानी।

एम। टा. प्रतिनिधि, कोल्हापुर

दिन भर के बाद शाम को अच्छी बारिश हुई। एक घंटे तक चली तेज हवा, गरज और आंधी के साथ हुई बारिश ने वातावरण में ओलावृष्टि ला दी। (कोल्हापुर में रौशनी के साथ भारी बारिश) जमा हुआ पानी निचले इलाकों में)

जिले में पिछले आठ दिनों से रुक-रुक कर बारिश हो रही है। दो दिन से लगातार रिमझिम बारिश शुरू हो गई है। रविवार शाम को तेज बारिश हुई। सोमवार का दिन मुश्किल भरा रहा। अक्टूबर की मार जोरों पर थी। शाम पांच बजे के बाद अचानक बादल छंट गए। तेज हवाओं के साथ बारिश शुरू हो गई। एक घंटे तक बारिश हुई। गरज और बिजली के साथ हुई बारिश ने निचले इलाकों में पानी भर दिया। शाम की बारिश ने दिन भर गर्मी से जूझ रहे लोगों को राहत दी। बारिश से वातावरण में धुंध छा गई।

क्लिक करें और पढ़ें- ‘पवेलियन वापस आ सकती है शिवसेना’; रामदास आठवले के बयान पर चर्चा

कोल्हापुर शहर समेत जिले में कई जगहों पर बारिश हुई। बांध क्षेत्र में भारी बारिश हो रही है। इसके चलते नदी का जलस्तर लगातार बढ़ रहा है।

क्लिक करें और पढ़ें- बड़ी राहत! राज्य में कोरोना संक्रमण का ग्राफ नीचे दिया गया है; मौतें घटीं
क्लिक करें और पढ़ें- ‘… नहीं तो हम महाराष्ट्र को बंद कर देंगे’; कांग्रेस नेता नाना पटोले ने बीजेपी को दी चेतावनी

.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *