US President Election Kamala Harris recalls her grandfather


कोरोना काल में अमेरिका में नवंबर में राष्ट्रपति चुनाव होने वाले हैं और इसके लिए अभी से ही जोर आजमाइश हो रही है। अमेरिका के राष्ट्रपति चुनाव में अप्रवासी भारतीयों को भी रिझाने की कोशिश जारी है। सभी उम्मीदवार लगातार भारत का जिक्र कर भारतवंशी वोटरों को लुभाने की कोशिशों में जुटे हैं। डेमोक्रेटिक पार्टी की ओर से उपराष्ट्रपति पद की उम्मीदवार भारतीय मूल की कमला हैरिस ने अपने दादा को याद किया है और कहा कि उन्होंने अपने दादा से ही लोकतंत्र का महत्व सीखा है। 

डेमोक्रेटिक पार्टी की उपराष्ट्रपति पद की उम्मीदवार कमला हैरिस ने बुधवार (स्थानीय समय) को अपने दादा को याद करते हुए कहा कि उनके दादा पी.वी. गोपालन अक्सर उन्हें भारत में समुद्र किनारे मॉर्निंग वॉक पर ले जाया करते थे, जहां वे लोकतंत्र और नागरिक अधिकारों की लड़ाई के महत्व पर चर्चा किया करते थे।

उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, ‘जब मैं युवा थी, तब मेरे दादाजी अक्सर मुझे भारत में मॉर्निंग वॉक पर ले जाते थे, जहां वह लोकतंत्र और नागरिक अधिकारों के लिए लड़ाई के महत्व पर चर्चा करते थे।’ उन्होंने कहा कि उनके दादाजी की ये बातें उन्हें आज भी याद हैं और यह प्रतिबद्धता और एक बेहतर भविष्य के लिए लड़ाई उनके अंदर आज भी है। 

कमला हैरिस के ट्वीट के साथ 57 सेकेंड का एक वीडियो भी है, जिसमें उनकी और उनके परिवार की पुरानी तस्वीरे हैं और वह अपने परिवार के साथ इसमें दिख रही हैं। इस वीडियो में कमला हैरिस कहती हैं, ‘मेरे दादा दादी अभूतपूर्व थे। हम हर दूसरे साल भारत वापस आते। मेरे दादा भारत की स्वतंत्रता के रक्षक थे और इसके लिए उन्होंने संघर्ष किया। जब मैं एक छोटी बच्ची थी, सबसे बड़ी पोती होने के नाते मेरे दादाजी मुझे मॉर्निंग वॉक पर ले जाते थे।’

हैरिस ने कहा कि भारत में समुद्र तट पर उन मॉर्निंग वॉक ने वास्तव में मेरे दिमाग में कुछ बोया और मुझमें एक प्रतिबद्धता पैदा की। आज मैं यहां इसी वजह से हूं। बता दें कि कमला हैरिस उपराष्ट्रपति पद के लिए डेमोक्रेटिक नामांकन स्वीकार कर चुकी हैं। कमला हैरिस की जड़ें भारत से जुड़ी हुई हैं। कमला हैरिस की मां श्यामला गोपालन चेन्नई की रहने वाली थीं।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *