'सुशांत का केस नंबर 16 और आर्यन 105', NCB के समीर वानखेड़े बोले- हम बॉलिवुड को टारगेट नहीं कर रहे



पिछले एक साल से ज्यादा समय से अपनी फिल्मों से ज्यादा ड्रग्स के कारण चर्चा में है। नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो () ने बॉलिवुड में फैले ड्रग्स के जाल पर काफी शिकंजा कसा है। सुशांत सिंह राजपूते के निधन के बाद काफी लोग इस शिकंजे में फंस चुके हैं। अब हाल में शाहरुख खान के बेटे आर्यन को ने ड्रग्स लेने के इल्जाम में गिरफ्त में लिया है। इन सब मामलों में एसीबी के जोनल डायरेक्टर का नाम चर्चा में रहता है। हमारे सहयोगी टाइम्स ऑफ इंडिया ने समीर वानखेड़े से एक्सक्लूसिव बातचीत की है।

समीर वानखेड़े और एनसीबी पर आरोप लगता है कि वे केवल बॉलिवुड को टारगेट कर रहे हैं। इन आरोपों पर उन्होंने कहा, ‘ऐसा कई बार हुआ है कि हम पर आरोप लगे हैं कि हम बॉलिवुड को टारगेट कर रहे हैं। लेकिन किसी के सोचने के बजाय फैक्ट पर बात करते हैं और उससे भी ज्यादा आंकड़ों पर। पिछले साल, हमने 10 महीने में कुल 105 लोगों के ऊपर केस दर्ज किए। आप बताइए इनमें से कितने सिलेब्रिटीज थे? केवल कुछ। इस साल भी हमने 310 लोगों को गिरफ्तार किया है और उनमें से कितने सिलेब्रटीज हैं? हम लोगों ने 150 करोड़ रुपये की ड्रग्स जब्त की है मगर इसके बारे में कोई बात नहीं करता है।’

के पकड़े जाने की खबर पर वानखेड़े ने कहा, ‘आज पूरा मीडिया आर्यन खान की स्टोरी चला रहा है। केवल 2 दिन पहले ही हमने 5 करोड़ की ड्रग्स जब्द की थी मगर किसी ने खबर नहीं चलाई। पिछले हफ्ते हमने 6 करोड़ की ड्रग्स पकड़ी थी जिसका संबंध अंडरवर्ल्ड से था मगर किसी ने खबर नहीं चलाई। कोई भी इस बारे में बात नहीं करना चाहता है। हमारा एक आदमी एक नाइजीरियन ड्रग डीलर को पकड़ने में घायल हो गया मगर किसी बॉलिवुड के आदमी या मीडिया ने इस पर खबर नहीं चलाई। जाहिर सी बात है कि किसी मशहूर आदमी को पकड़ेंगे तो खबर बनेगी मगर ऐसा इल्जाम मत लगाइए कि हम केवल बॉलिवुड को टारगेट कर रहे हैं।’

समीर वानखेड़े ने आगे कहा कि उनकी टीम केवल अपना काम कर रही है और इसमें कुछ मशहूर लोग भी पकड़े जाते हैं। उन्होंने कहा, ‘नियम सबके लिए एक से हैं तो हम सिलेब्रिटीज को क्यों छोड़ देंगे? जो कानून का पालन नहीं करेंगे उसे नहीं बख्शा जाएगा और वो भी केवल इसलिए कि वो फेमस हैं? उन्हें इससे कानून तोड़ने का अधिकार मिल जाता है? अगर कोई मशहूर आदमी कानून तोड़े तो हम कुछ ना करें? हम केवल ड्रग पेडलर्स को पकड़ें और झुग्गियों में छापेमारी करें? ऐसा नहीं हो सकता।’

आर्यन खान और के केस के सुर्खियों में आने पर पर समीर वानखेड़े ने कहा, ‘मैं मानता हूं कि यह केस सुर्खियों में आ गया। मगर सुशांत के केस नंबर 16 के बाद यह केस नंबर 105 है, इसके बीच में भी बहुत सारे मामले दर्ज किए गए। लेकिन लोग दूसरे केसों के बारे में बात नहीं करते क्योंकि वे मशहूर नहीं है। हम लोगों ने 12 ड्रग्स के नेटवर्क का भांडाफोड़ किया है लेकिन कभी किसी ने इस पर बात नहीं की है।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

AllwNews