Aryan Khan Court Statement: Shahrukh Khan’s son Aryan Khan explains to court How He was arrested in drugs case by NCB- Aryan Khan Statement: आर्यन ने कोर्ट को बताया क्रूज पर क्‍या हुआ था, कैसे हुई थी गिरफ्तारी


मुंबई की किला कोर्ट ने ड्रग्‍स केस में आर्यन खान (Aryan Khan) समेत सभी 8 आरोपियों को गुरुवार को 14 दिनों की न्‍यायिक हिरासत में भेज दिया। NCB ने कोर्ट में 11 अक्‍टूबर तक रिमांड बढ़ाने की मांग की थी। लेकिन कोर्ट ने इसे खारिज कर दिया। न्‍यायिक हिरासत (Judicial Custody) में भेजे जाने के बाद आर्यन के वकील सतीश मानश‍िंदे (Satish Manshinde) ने तत्‍काल जमानत को लेकर दो अर्जिया दीं। हालांकि, इनमें से अंतरिम जमानत पर शुक्रवार को सुनवाई होगी। लेकिन गुरुवार को कोर्ट में ही‍यरिंग के दौरान सतीश मानश‍िंदे ने आर्यन खान का बयान भी पढ़ा। कोर्ट की भाषा में कहें तो आर्यन खान ने अदालत को अपने वकील के हवाले से यह बताया कि 2 अक्‍टूबर को क्रूज पर क्‍या हुआ था, वह वहां कैसे पहुंचे थे और उनकी गिरफ्तारी कैसे हुई।

मानश‍िंदे ने कहा- एक बार सुना जाना चाहिए आर्यन का बयान
सुनवाई के दौरान आर्यन खान के वकील सतीश मानश‍िंदे ने कोर्ट में कहा कि सुनवाई आगे बढ़ाने से पहले एक बार उनके मुवक्‍क‍िल के बयान को भी सुना जाना चाहिए। जस्‍ट‍िस आरएम नेर्लिकल ने ग्रांटेड कहा तो सतीश मानश‍िंदे ने बयान पढ़कर सुनाया। इस बयान में आर्यन ने शनिवार, 2 अक्‍टूबर को क्रूज पार्टी में बारे में क्‍या कुछ कहा, उसका ब्‍योरा है। मानश‍िंदे के मुताबिक, आर्यन खान को पार्टी के बारे में उनके दोस्‍त प्रतीक से पता चला था। प्रतीक ने ही उन्‍हें पार्टी के एक ऑर्गेनाइजर से मिलवाया था और फिर आर्यन को वीवीआईपी गेस्‍ट के तौर पर वहां बुलाया गया।

‘मेरे दोस्‍त प्रतीक ने दी थी पार्टी की जानकारी’
आर्यन ने अपने बयान में कहा, ‘मेरा एक दोस्‍त है प्रतीक, उसने मुझे एक शख्‍स से मिलवाया जो ऑर्गेनाइजर्स को जानता था। उसने मुझसे कहा कि मुझे वीवीआईपी के तौर पर इन्‍वाइट किया जाएगा। सिर्फ इस मंशा से कि मैं क्रूज की पार्टी में एक ग्‍लैमर जोड़ पाऊंगा। मैं वहां गया। वहां 1300 के करीब लोग थे। लेकिन सिर्फ 17 को गिरफ्तार किया गया।’

सतीश मानश‍िंदे ने कोर्ट से क्‍यों कहा- आर्यन खान को NCB ने ‘हॉस्‍टेज’ बना दिया है
‘वॉट्सऐप चैट से हो जाएगी इसकी पुष्‍ट‍ि’
मानश‍िंदे ने कोर्ट से कहा कि आर्यन और प्रतीक के बीच हुए वॉट्सऐप चैट में इन बातों की पुष्‍ट‍ि हो जाएगी। अब क्रूज पार्टी की तरफ से आए वीवीआईपी निमंत्रण पर आर्यन इंटरनैशनल टर्मिनल ऑफ मुंबई पोर्ट पहुंचे, जहां एनसीबी अध‍िकारियों से उनका सामना हुआ।

Aryan Khan Case: भोपाल के व्यक्ति का दावा- बीजेपी कार्यकर्ताओं को दी थी ड्रग्स पार्टी की सूचना
‘टर्मिनल के गेट पर मुझे मिला था अरबाज’
आर्यन ने बयान में आगे कहा, ‘मैं टर्मिनल के गेट पर पहुंचा। वहां अरबाज पहले से था। इससे पहले कि हम क्रूज पर जाते, एनसीबी ने हमसे सवाल पूछे। जब हम जहाज पर चढ़े, उन्‍होंने मुझसे पूछा कि क्‍या मैंने ड्रग्‍स लिए हैं। मेरे सामान और मेरे आदमी की भी तलाशी ली गई। उन्‍हें कुछ नहीं मिला।’

ना NCB जीती, ना आर्यन खान को जेल जाने से बचा पाए सतीश मानश‍िंदे… जानिए कोर्ट में क्‍या-क्‍या हुआ
‘ऑर्गेनाइजर्स से मेरा कोई संबंध नहीं’
आर्यन खान ने बयान में आगे कहा, ‘मेरा ऑर्गेनाइजर्स से कोई संबंध नहीं है। मैं अरबाज संग अपनी दोस्‍ती से इनकार नहीं कर रहा हूं। लेकिन मैं इस तरह की गतिविध‍ियों में शामिल नहीं हूं। उसने खुद कहा है कि वह वहां अपने आप आया था।’

आर्यन खान को न्‍याय‍िक हिरासत में भी जेल क्‍यों नहीं भेजा गया? जानिए क्‍यों NCB दफ्तर के लॉकअप में कटेगी रात
ASG ने कोर्ट से कही ये दो बातें
कोर्ट में सतीश मानश‍िंदे ने जब आर्यन का बयान पढ़ा, तब एडिशनल सॉलिसिटर जनरल अनिल सिंह ने दो मुख्‍य बातों पर जोर दिया। उन्‍होंने कहा कि वह इस मामले में ज्‍यादा कुछ नहीं कहना चाहते। सीधे तौर पर कोर्ट से यही कहना चाहेंगे कि बुधवार को गिरफ्तार हुए अचित कुमार से आमने-सामने बिठाकर पूछताछ के लिए आर्यन खान और बाकी आरोपियों की कस्‍टडी बढ़ाना जरूरी है। आर्यन और अरबाज ने ही पूछताछ में अचित का नाम लिया था। आगे की पूछताछ में ये कुछ और नाम भी बता सकते हैं।

Video: अंधविश्वास के सहारे हैं आर्यन खान? सुनवाई से पहले पहना काले मोतियों का ब्रेसलेट
सुप्रीम कोर्ट की टिप्‍पणी का भी हुआ जिक्र
अनिल सिंह ने इस दौरान सुप्रीम कोर्ट का हलवा देते हुए एक लाइन कही। उन्‍होंने कहा, ‘जैसा कि सुप्रीम कोर्ट का कहना है कि रिकवरी महत्‍वपूर्ण नहीं होती। ज्‍यादा महत्‍वूर्ण है जानकारी होना।’

aryan-khan

Shahrukh Khan’s son Aryan Khan explains to court How He was arrested in drugs case by NCB

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *