boman irani world boxing championships: when Boman Irani meet Adajania requested to become the official photographer of the World Cup: वर्ल्ड कप के लिए ऑफिशल फोटोग्राफर बनने के लिए बोमन ईरानी ने 6 महीने तक किया बिना सैलरी के काम


बोमन ईरानी (Boman Irani) आज अपना 62वां जन्मदिन सेलिब्रेट कर रहे हैं। बॉलिवुड में शानदार ऐक्टर्स में शुमार बोमन के लिए यहां तक पहुंचना इतना आसान नहीं था। बोमन ईरानी ने तकलीफों का दौर उसी वक्त से देखा जब उनका जन्म हुआ। बोमन के जन्म से 6 महीने पहले ही पिता का साया उनके सिर से दूर हो गया। ईरानी ने मीठीबाई कॉलेज से 2 साल वेटर का कोर्स किया। ईरानी वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप्स के लिए फोटोग्राफी करना चाहते थे लेकिन उन्हें मना कर दिया गया। हालांकि, उन्होंने हार नहीं मानी और फिर ऐसा किया कि उनकी खींची गई तस्वीरों की डिमांड होने लगी।

पॉलिटेक्नीक डिप्लोमा कोर्स करते हुए ही उन्होंने होटेल ताजमहल में काम करना शुरू किया। उन्होंने वेटर और रूम सर्विस का काम दो साल तक किया। इसके बाद उन्हे प्रमोशन मिला और वह होटेल के ऊपर बने फ्रेंच रेस्ट्रॉन्ट Rendezvous के वेटर बन गए।

करीब 32 साल तक ईरानी अपनी मां के साथ मिलकर अपने पैतृक बेकरी और नमकीन शॉप का भी काम देखा करते थे। मुंबई के ग्रैंट रोड पर नॉवेल्टी और अप्सरा सिनेमा की बी स्थित इस बेकरी शॉप में वह चाय और आलू के चिप्स बेचा करते थे।

ताजमहल में काम करते हुए उन्हें वहां आए गेस्ट से जो पैसे टिप के तौर पर मिला करते उसे जमा करके उन्होंने कैमरा खरीदा था। ईरानी अपने इस कैमरे से स्पोर्ट्स (स्कूल क्रिकेट और फुटबॉल मैच) की तस्वीरें खींचा करते थे और उन्हें 20-30 रुपये में बेचा करते थे। यह काम उन्होंने शादी के बाद तक भी जारी रखा। लेकिन ईरानी आगे का सपना देख रहे थे। रिपोर्ट्स के मुताबिक, ईरानी ने मुंबई में वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप्स से 6 महीने पहले Adajania (इंडिया के ओलिम्पिक बॉक्सिंग असोसिएशन के प्रेसिडेंट थे) से मिले और उनसे ऑफिशल फोटोग्राफर के तौर पर खुद को रखने का निवेदन किया।

कहते हैं कि जब Adajania ने उनसे कहा कि उन्हें उनकी जरूरत नहीं है तो ईरानी ने उन्हें ऑफर किया कि उन्हें इस इवेंट का कवर करने का मौका दिया जाए और बदले में वह उनके ऑफिस में 6 महीने तक बिना सैलरी के काम करेंगे। वह उन्हें कन्विन्स करने की कोशिश करते रहे और फिर उन्होंने बाकी फोटोग्राफर से हटकर अपने अलग अंदाज में स्टेट बॉक्सिंग मैच को कवर किया। चर्चा यह भी है कि इसके बाद अडजानिया उनके खींचे गए फोटोज़ और पैशन को देखकर काफी इम्प्रेस हुए और उन्हें बतौर ऑफिशल फोटोग्राफर रख लिया।

ईरानी Norwegian बॉक्सिंग टीम के ऑफिशल फोटोग्राफर बने और वे नॉर्वे के फेमस बॉक्सर Ole Klemetsen की तस्वीरें चाहते थे। जब उनसे इसका चार्ज पूछा गया तो बोमन ने इंटरनैशनल रेट लगाया।

ईरानी बचपन और कॉलेज के दिनों में ऐक्टिंग की तरफ भी काफी झुके थे और यह कीड़ा उनके अंदर अब भी था। आखिरकार साल 2000 में उन्होंने ऐक्टिंग की ओर रुख किया। फैंटा, क्रैक जैक Ceat जैसे विज्ञापन से अपने ऐक्टिंग की उन्होंने शुरुआत की। साल 2003 में फिल्म मुन्ना भाई एमबीबीएस (Munna Bhai M.B.B.S.) में अपनी ऐक्टिंग से दर्शकों के दिलों पर राज करना शुरू कर दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

AllwNews