Manoj Muntashir On Claims Of Copying Teri Mitti: manoj muntashir reacts on plagiarism and claims of copying teri mitti from pakistani song says if proved will quit writing- ‘तेरी मिट्टी’ सॉन्ग चोरी करने के आरोपों पर भड़के मनोज मुंतशिर- साबित हो गया तो हमेशा के लिए लिखना छोड़ दूंगा


मशहूर लेखक और गीतकार मनोज मुंतशिर (Manoj Muntashir) पर हाल ही एक कविता चोरी करने का आरोप लगा। इसके बाद से ही वह लोगों के निशाने पर हैं। अब मनोज मुंतशिर (Manoj Muntashir on copying Teri Mitti) पर आरोप लगाया जा रहा है कि उन्होंने फिल्म ‘केसरी’ (Kesari) के गाने ‘तेरी मिट्टी’ को एक पाकिस्तानी सॉन्ग से कॉपी किया है। सोशल मीडिया पर चर्चा हो रही है कि उन्होंने ‘तेरी मिट्टी’ को साल 2005 में आए एक पाकिस्तानी गाने से चुराया है।

मनोज मुंतशिर (Manoj Muntashir on plagiarism claim) इन आरोपों पर भड़क गए हैं। उन्होंने कहा है कि अगर यह साबित हो जाए कि उन्होंने ‘तेरी मिट्टी’ गाने को कहीं से कॉपी किया है तो वह हमेशा के लिए लिखना छोड़ देंगे।

पाकिस्तानी नहीं, गीता रबारी ने गाया गाना
मनोज मुंतशिर ने इस पूरे विवाद पर हमारे सहयोगी टाइम्स ऑफ इंडिया के साथ बात की। उन्होंने कहा, ‘जो लोग भी ये आरोप लगा रहे हैं, उन्हें यह चेक कर लेना चाहिए कि वह वीडियो हमारी फिल्म ‘केसरी’ के रिलीज होने के महीनों बाद अपलोड किया गया है। जानकारी के लिए बता दूं कि जिस गाने की बात की जा रही है, उसे पाकिस्तानी सिंगर नहीं बल्कि हमारी अपनी लोक गायिका गीता रबारी (Geeta Rabari) ने गाया है। आप उन्हें भी कॉल करके इसकी पुष्टि कर सकते हैं।’

मनोज मुंतशिर ने आगे कहा कि वह गीता रबारी को पर्सनली जानते हैं और वह अकसर उनके काम की तारीफ करती रही हैं। मनोज बोले, ‘आप इस बारे में भी गीता जी से पूछ सकते हैं।’

इस गाने की कॉपी बताया जा रहा ‘तेरी मिट्टी’, देखिए वीडियो:

https://www.youtube.com/watch?v=0moIXAW4cA0

पढ़ें: मनोज मुंतशिर ने मुगलों को बताया ‘डैकत’, सोशल मीडिया पर हो रही आलोचना

गाने ही नहीं कविता चोरी करने का भी आरोप

मनोज मुंतशिर पर सिर्फ ‘तेरी मिट्टी’ को लेकर ही नहीं बल्कि कुछ और गानों और कविताओं को भी चोरी करने का आरोप लगा है। उन पर हाल ही ‘मुझे कॉल करना’ वाली कविता चोरी करने का आरोप लगा है। यह कविता मनोज मुंतशिर की साल 2018 में छपी किताब ‘मेरी फितरत है मस्ताना’ में छपी थी। सोशल मीडिया पर चर्चा हो रही है कि यह कविता मनोज मुंतशिर की अपनी कविता नहीं है।

अचानक ही निशाने पर क्यों आ गए मनोज मुंतशिर?
मनोज मुंतशिर से जब पूछा गया कि अचानक एक साथ ही उन पर इतने आरोप क्यों लग रहे हैं? इसके जवाब में मनोज मुंतशिर बोले, ‘लोग मुझे पर इसलिए अटैक कर रहे हैं क्योंकि मैंने मुगलों पर एक वीडियो बनाया था, जिसमें मैंने उनके खिलाफ कड़े शब्दों का इस्तेमाल किया और उन्हें ‘डकैत’ बताया था, जिनका महिमामंडन किया गया है।’ बता दें कि मनोज मुंतशिर ने कुछ वक्त पहले एक वीडियो शेयर किया था, जिसमें उन्होंने मुगल बादशाहों की तुलना ‘डकैतों’ से की थी। वीडियो में मनोज कह रहे थे, ‘देश का ब्रेनवॉश किया गया है और सड़कों का नाम अकबर, हुमायूं और जहांगीर जैसे ‘डैकतों’ के नाम पर रखा गया है।’ कई सेलेब्स ने भी मनोज मुंतशिर के इस वीडियो पर आपत्ति जताई थी।

‘साबित हुआ आरोप तो लिखना छोड़ दूंगा’

मनोज मुंतशिर ने कहा कि अगर किसी को उनके यूट्यूब वीडियो या फिर इतिहास को दोबारा सही तरह से बताने से दिक्कत है, तो वह उनसे बहस कर सकता है। अपनी वजहें सामने रख सकता है। लेकिन किसी ऐसे गाने की बेइज्जती न करें जो सशस्त्र बलों के लिए एक एंथम बन चुका है। मनोज मुंतशिर ने आगे कहा, ‘अगर यह साबित हो जाए कि मैंने ‘तेरी मिट्टी’ को किसी और गाने से कॉपी किया है तो मैं हमेशा के लिए लिखना छोड़ दूंगा।’

जबरदस्त है देशभक्ति वाला गाना ‘तेरी मिट्टी में मिल जावा’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *