पाकिस्तान में इमरान खान को बहुत बड़ा झटका! सरकार गिराने को लेकर दिया बड़ा बयान । Imran Khan in Pakistan Big blow to Ally MQM joins hands with opposition


Image Source : AP FILE PHOTO
Imran Khan News

Highlights

  • पाकिस्‍तानी पीएम इमरान खान की कुर्सी जाना तय!
  • सहयोगी MQM ने वापस लिया समर्थन, विपक्ष से मिलाया हाथ
  • पीपीपी अध्यक्ष बिलावल भुट्टो जरदारी ने ट्वीट कर दी जानकारी

Pakistan Imran Khan News: पाकिस्तान की करीब 4 साल पुरानी इमरान खान की सरकार की विदाई लगभग तय हो गई है। सत्ताधारी पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआइ) के मुखिया इमरान खान को बड़ा झटका लगा है। अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग से पहले ही पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) की सहयोगी मुत्ताहिदा कौमी मूवमेंट पाकिस्तान (एमक्यूएम पी) ने सरकार से अपना समर्थन वापस ले लिया है। एमक्यूएम ने विपक्षी पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) के साथ जाने का फैसला किया है। एमक्यूएम के पीटीआइ से समर्थन वापस लेने के बाद पीएम इमरान खानन की सरकार का जाना तय माना जा रहा है। साथ ही इमरान खान सरकार ने पाकिस्तान संसद के निचले सदन में अपना बहुमत खो दिया है। 

पीपीपी के अध्यक्ष बिलावल भुट्टो जरदारी ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी और लिखा कि “संयुक्त विपक्ष और एमक्यूएम एक समझौते पर पहुंच गए हैं। राबता समिति एमक्यूएम और पीपीपी सीईसी उक्त समझौते की पुष्टि करेंगे। इसके बाद हम कल एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में मीडिया के साथ विवरण साझा करेंगे, बधाई हो पाकिस्तान।” बता दें कि, जियो टीवी की एक रिपोर्ट के अनुसार पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव 3 अप्रैल को होने की उम्मीद है। 

सदन में अब पीटीआइ समर्थक सांसदों की संख्या घटकर 164 हो गई है

177 सदस्यों के साथ, विपक्ष के पास अब नेशनल असेंबली में अधिक संख्या में समर्थक हैं, जबकि दूसरी ओर पाकिस्तानी सरकार के संसद में केवल 164 सदस्य रह गए हैं। दरअसल पाकिस्तानी नेशनल असेंबली में कुल 342 सदस्य हैं, जिसमें बहुमत के लिए 172 सांसदों का समर्थन चाहिए। पीटीआई के नेतृत्व वाले गठबंधन के पास 179 सदस्यों का समर्थन था लेकिन अब, एमक्यूएम-पी के पार्टी छोड़ने के बाद, पीटीआई के पास 164 सदस्य ही रह गए हैं। वहीं संयुक्त विपक्ष के पास अब नेशनल असेंबली में समर्थकों की संख्या 177 हो गई है। विपक्ष के अविश्वास प्रस्ताव 31 मार्च से बहस शुरू होगी और तीन अप्रैल को वोटिंग होगी।

इमरान का आरोप- विदेशी फंडिंग से सरकार गिराने की कोशिश

इस बीच, इमरान खान ने आरोप लगाया है कि कुछ लोग विदेशी फंड की मदद से उनकी सरकार को गिराने की कोशिश कर रहे हैं। इमरान खान ने एक रैली में कहा, ‘पाकिस्तान में सरकार बदलने की कोशिश विदेशी पैसों के जरिए की जा रही है। हमारे लोगों का इस्तेमाल किया जा रहा है। कुछ लोग हमारे खिलाफ विदेशी पैसों का इस्तेमाल कर रहे हैं। हमें पता है कि किन जगहों से हम पर दबाव बनाने की कोशिश की जा रही है। हमें लिखित में धमकी दी गई है, लेकिन हम राष्ट्रहित से समझौता नहीं करेंगे।’



Leave a Reply

Your email address will not be published.

AllwNews