Four nuclear bombers spotted flying near Ukrainian border following the sinking of russian warship


Image Source : EAST2WEST NEWS
Nuclear bombers spotted flying near Ukrainian border

Highlights

  • रूस यूक्रेन युद्ध के हो चुके हैं 55 दिन
  • सामने आई हैरान करने वाली फुटेज
  • यूक्रेन सीमा के पास दिखे परमाणु बॉम्बर

कीव। रूस यूक्रेन युद्ध के 55 दिन हो चुके हैं लेकिन ये संघर्ष अभी तक थमता नहीं दिखाई दे रहा है। हाल ही में एक फुटेज में चार रूसी टीयू-95 न्यूक्लियर बॉम्बर जिन्हें बियर के नाम से जाना जाता है, रूस के कलुगा क्षेत्र में उड़ते दिखाई दिए। रूस के इस इलाके से ये रूसी बॉम्बर यूक्रेन में आराम से वार कर सकते हैं।

बता दें कि रूस ने पहले ही गैर-परमाणु क्रूज मिसाइलों से कीव पर हमला करने के लिए लंबी दूरी के बॉम्बर का इस्तेमाल किया है। हालांकि इस बात की आशंका जताई जा रही है कि यूक्रेनी मिसाइलों द्वारा कथित तौर पर अपने प्रमुख मोस्कवा जंगी जहाज के नष्ट होने के बाद रूसी राष्ट्रपति अपने हमलों को और भी तेज कर सकते हैं।

ब्लैक सी मिसाइल क्रूजर, ओडेसा और मारियुपोल के बंदरगाह शहरों को दहलाने के लिए, पुतिन के नौसैनिक मोर्चे में एक बहुत बड़ी ताकत थी। दावा किया जा रहा है कि जहाज पर गोला-बारूद विस्फोट के कारण लगी आग के बाद यह पोत डूब गया, लेकिन यूक्रेन का कहना है कि इसे उसकी दो नेप्च्यून मिसाइलों ने तबाह किया है। मोस्कवा पोत को तबाह होते हुए दिखाने का दावा करने वाली एक तस्वीर भी सामने आई थी।

रूस की राजधानी के नाम से प्रेरित युद्धपोत मोस्कवा बुरी तरह क्षतिग्रस्त होने के बाद डूब गया। अमेरिका और अन्य पश्चिमी देशों के अधिकारियों ने मोस्कवा में आग लगने के कारणों की पुष्टि नहीं की। युद्धपोत लंबी दूरी की 16 मिसाइलें ले जाने की क्षमता रखता था। जानकारों का कहना है कि युद्धपोत के डूबने से काला सागर में रूस की सैन्य क्षमता पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ेगा। इसके अलावा, यह घटना पहले से ही एक बड़ी ऐतिहासिक भूल के रूप में देखे जाने वाले यूक्रेन युद्ध में रूस की प्रतिष्ठा के लिए बड़ा झटका भी है।



Leave a Reply

Your email address will not be published.

AllwNews