Imran Khan News: इमरान खान की सरकार कैसे गिरी? पाक संसद शुरू होने से लेकर अब तक के सारे अपडेट्स यहां जानें


Image Source : FILE PHOTO
इमरान खान की सरकार कैसे गिरी?

Imran Khan News: अब इमरान खान पाकिस्तान के वजीर-ए-आलम नहीं रहे। उनकी कुर्सी छिन चुकी है। पाकिस्तान की नेशनल असेंबली में अविश्वास प्रस्ताव पर शनिवार-रविवार की रात हुई वोटिंग में इमरान खान को हार का सामना करना पड़ा। 342 सदस्यीय सदन में विपक्ष को 174 सदस्यों का समर्थन मिला जो प्रधानमंत्री इमरान खान को हटाने के लिए ज़रूरी नंबर 172 से अधिक रहा। 

बता दें, पाकिस्तान की सुप्रीम कोर्ट ने डिप्टी स्पीकर कासिम सूरी के फैसले को पलटते हुए नेशलन असेंबली में 9 अप्रैल को अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग कराने का आदेश दिया था। उधर शनिवार को नेशलन असेंबली में अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग कराने से स्पीकर असद कैसर ने इनकार कर दिया। असद कैसर ने कहा कि उनका इमरान खान के साथ 30 साल का रिश्ता है इसलिए वह उन्हें बाहर करने के लिए वोटिंग की अनुमति नहीं दे सकते। स्पीकर ने कहा इमरान खान के साथ वह धोखा नहीं कर सकते चाहे भले ही इसके लिए उनको कोई भी सज़ा दी जाए। 

स्पीकर असद कैसर के इस बयान के बाद पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के नेता मुस्तफा नवाज ने कहा- ‘अगर नेशलन असेंबली के स्पीकर सुप्रीम कोर्ट का आदेश नहीं मानते तो आर्मी चीफ बाजवा को अपनी जिम्मेदारी निभानी चाहिए।’ 

इसके बाद नेशनल असेंबली के सेक्रेटरी ने कहा- ‘अगर स्पीकर वोटिंग कराने से मना करते हैं तो ऐसे में आर्टिकल 6 सभी पर लागू होगा।’ बता दें आर्टिकल 6 के अनुसार अगर कोई व्यक्ति संविधान के खिलाफ जाता है और अपनी मनमानी करने की कोशिश करता है तो इसे देशद्रोह माना जाता है। इस बीच खबर ये भी आ रही थी कि अगर अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग नहीं होती है तो ऐसे में इमरान खान, स्पीकर और डिप्टी स्पीकर को गिरफ्तार किया जा सकता है। 

इस दौरान इमरान खान ने अपने जोशिले भाषण में कहा- ‘मैं अपने खिलाफ विदेशी साजिश को नाकाम कर दूंगा। मुझे जेल हो सकती है, लेकिन मैं आखिरी गेंद तक अपने देश के लिए लड़ता रहूंगा।’ इसी बीच वोटिंग नहीं कराने की ज़िद पर अड़े स्पीकर असद कैसर और डिप्टी स्पीकर कासिम सूरी ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया। 

जिसके बाद PML-N के सांसद अयाद सादिक को स्पीकर का चार्च दिया गया और फिर अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग शुरू हुई। इस दौरान इमरान खान की पार्टी के सभी सांसद सदन से बाहर चले गए। इमरान खान भी वहां मौजूद नहीं रहे।

इमरान खान और उनके समर्थकों की गैरमौजूदगी में पाक की नेशनल असेंबली में अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग हुई। संयुक्त विपक्ष को 174 वोट मिले। बता दें पाकिस्तान की नेशनल असेंबली में कुल 342 सदस्य होते हैं। इमरान खान को हटाने के लिए 172 वोटों की ज़रूरत थी।



Leave a Reply

Your email address will not be published.

AllwNews