Russia Ukraine War News : 50 more people including 11 children evacuated from Mariupol steel plant| मारियुपोल इस्पात संयंत्र से 11 बच्चों समेत 50 और लोगों को निकाला गया


Image Source : AP
Mariupol steel plant

Highlights

  • मारियुपोल की लड़ाई को जल्द खत्म करना चाहते हैं पुतिन
  • स्टील प्लांट की सुरंगों में यूक्रेन के करीब दो हजार सैनिक मौजूद

Russia Ukraine War News :   मारियुपोल (Mariupol) में रूसी सेना द्वारा घेरे गए इस्पात संयंत्र (Steel Plant) में सुरंगों में छिपे 11 बच्चों सहित 50 और आम नागरिकों को शुक्रवार को सुरक्षित निकाला गया है। जबकि वहां विशाल परिसर में छिपे लड़ाके रणनीतिक बंदरगाह शहर पर मॉस्को के पूर्ण कब्जे को रोकने के लिए डटे हुए हैं। रूसी सरकार की एजेंसी, रूसी अंतरविभागीय मानवीय प्रतिक्रिया केंद्र (Russian Interdepartmental Humanitarian Response Center) ने एक बयान जारी कर कहा कि अजोवस्तल स्टील प्लांट से बचाए गए 50 लोगों में 11 बच्चे शामिल हैं और संयुक्त राष्ट्र (United Nations) और रेड क्रॉस (Red Cross) की अंतर्राष्ट्रीय समिति के प्रतिनिधियों को इन्हें सौंपा गया है। 

यूक्रेन की उपप्रधान मंत्री, इरिना वीरेशचुक ने पुष्टि की कि 50 ”महिलाएं, बच्चे और बुजुर्ग” विशाल परिसर को छोड़ने में कामयाब रहे, और उन्होंने व रूसी एजेंसी ने कहा कि बचाव प्रयास शनिवार को भी जारी रहेगा। रूसी हमले से बर्बाद हुए शहर के आखिरी यूक्रेनी गढ़ में लड़ाई रूस के लिए हताशा उत्पन्न कर रही है और अटकलें हैं कि रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन मारियुपोल की लड़ाई को जल्द खत्म करना चाहते हैं ताकि वह सोमवार को मनाए जाने वाले विजय दिवस के अवसर पर रूसी लोगों के सामने जीत का तोहफा प्रस्तुत कर सकें। 

इस्पात संयंत्र की सुरंगों में यूक्रेन के करीब दो हजार सैनिक 

रूस के हालिया आकलन के मुताबिक, अजोवस्तल इस्पात संयंत्र की सुरंगों में यूक्रेन के लगभग दो हजार सैनिक मौजूद हैं और वे बार-बार समर्पण से इनकार कर रहे हैं। हाल के दिनों में लड़ाई के भीषण होने से उनकी सुरक्षा को लेकर चिंता उत्पन्न हो रही है। इसबीच स्थायी सदस्य रूस समेत संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने शुक्रवार को अध्यक्षीय बयान को अंगीकार किया जिसमें “यूक्रेन में शांति और सुरक्षा को कायम रखने के संदर्भ में गहरी चिंता व्यक्त की गई है।”

यूएन ने यूक्रेन में शांति और सुरक्षा को लेकर गहरी चिंता जताई

रूसी हमले के दो महीने बाद यह युद्ध पर पहला सर्वसम्मत बयान है। फिलहाल अमेरिका की अध्यक्षता में 15 राष्ट्रों वाली संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने सर्वसम्मति से संक्षिप्त अध्यक्षीय बयान पारित किया। बयान में परिषद ने “यूक्रेन में शांति और सुरक्षा कायम रखने के संदर्भ में गहरी चिंता व्यक्त की।” शक्तिशाली सुरक्षा परिषद ने एक शांतिपूर्ण समाधान की तलाश में महासचिव एंटोनियो गुतारेस के प्रयासों के लिए पुरजोर समर्थन व्यक्त किया। 

इनपुट-भाषा



Leave a Reply

Your email address will not be published.

AllwNews