आदित्य ठाकरे ने ट्विटर बायो से ‘मंत्री’ शब्द हटा दिया? मीडिया, पत्रकारों का ग़लत दावा


विधायक एकनाथ शिंदे के नेतृत्व में कुछ असंतुष्ट शिवसेना नेताओं की वजह से महाराष्ट्र में राजनीतिक हलचल शुरू हुई. इस दौरान, कई मीडिया संगठन और भाजपा नेताओं ने दावा किया कि विधायक आदित्य ठाकरे ने ट्विटर बायो से ‘मंत्री’ शब्द हटा लिया.

RSS के मुखपत्र ‘ऑर्गेनाइज़र वीकली’ ने इस दावे का समर्थन करने के लिए आदित्य ठाकरे की ट्विटर प्रोफ़ाइल का स्क्रीनशॉट ट्वीट किया. (ट्वीट का आर्काइव लिंक)

‘जन की बात’ ने भी आदित्य ठाकरे के प्रोफ़ाइल का एक स्क्रीनशॉट ट्वीट किया जिसमें दावा किया गया कि उन्होंने अपने बायो से ‘मंत्री’ शब्द हटा लिया. (आर्काइव लिंक)

22 जून को इकनॉमिक टाइम्स ने भी ये दावा ट्वीट किया. (आर्काइव लिंक)

इसी तरह, भाजपा हरियाणा आईटी सेल के प्रमुख अरुण यादव, राजनीतिक रणनीतिकार और टिप्पणीकार अमिताभ तिवारी, द पुणे मिरर के पत्रकार अली शेख, द न्यू इंडियन एक्सप्रेस के पत्रकार सुधीर सूर्यवंशी, ज़ी न्यूज़ के पत्रकार संजय यादव, न्यूज़ एजेंसी ANI की संपादक पायल मेहता, न्यूज़18 UP की उप संपादक और एंकर आस्था कौशिक ने ये दावा ट्वीट किया. ऐसे ही कई मीडिया संगठन जैसे द टाइम्स ऑफ़ इंडिया, न्यूज़9, पुणे मिरर, मिड-डे और वाइब्स ऑफ़ इंडिया, फ़र्स्ट इंडिया न्यूज़, नवभारत टाइम्स, पंजाब केसरी, ज़ी 24 Taas ने भी ये रिपोर्ट दी.

This slideshow requires JavaScript.

फ़ैक्ट-चेक

ऑल्ट न्यूज़ ने इंटरनेट वेबैक मशीन पर महाराष्ट्र सरकार में कैबिनेट मंत्री और शिव सेना के विधायक आदित्य ठाकरे की ट्विटर प्रोफ़ाइल सर्च की. हमें मालूम चला कि उनका वर्तमान ट्विटर बायो बदला नहीं है. उनके ट्विटर प्रोफ़ाइल के कई पुराने आर्काइव्स देखने से पता चलता है कि उनके ट्विटर बायो में ‘मिनिस्टर’ शब्द मौजूद ही नहीं था. उदाहरण के लिए नीचे 13 जून 2022 के ट्विटर प्रोफ़ाइल के आर्काइव का एक स्क्रीनशॉट शेयर किया गया है. वर्तमान में जारी ये राजनीतिक हलचल 20 जून को शुरू हुई थी. लेकिन 13 जून के उनके बायो और हाल के बायो के बीच कोई अंतर नहीं है.

असल में, दिसंबर 2020 में महाराष्ट्र सरकार में पर्यटन और पर्यावरण के लिए कैबिनेट मंत्री के रूप में आदित्य ठाकरे की नियुक्ति हुई थी. लेकिन उसके बाद भी उनका बायो यही था. नीचे, स्क्रीनशॉट में दिख रहा है कि मार्च 2020 से उनके ट्विटर बायो यही है.

तो जैसा कि ऑल्ट न्यूज़ ने जांच में पाया कि कई भाजपा नेता, पत्रकार और मीडिया संगठनों ने ये झूठा दावा किया कि महाराष्ट्र में जारी राजनीतिक हलचल के बीच आदित्य ठाकरे ने ट्विटर बायो से ‘मंत्री’ शब्द हटा लिया. जबकि पहले भी उनके ट्वीटर बायो में ‘मंत्री’ शब्द मौजूद ही नहीं था.

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

AllwNews