रायपुर के श्री राम मंदिर में बने 27 नक्षत्रों पर आधारित नक्षत्र वाटिका


श्रवण शर्मा, रायपुर। नक्षत्र वाटिका: राजधानी के वीआई रोड श्रीराम मंदिर में पांच कक्षा कक्षा में वाटिका हो रही है। इस वैटिका की पहचान यह है कि शास्त्रों में 27 नक्षत्र और आकार के पौधे लगाए गए हैं। ओर चबूतरा

श्रीराम मंदिर के पेसर पंडित हनुमत लाल के ज्योतिष शास्त्र में, राशि, नक्षत्र के अनुरुप प्‍लग के प्‍लांट है प्‍यार से सदस्‍यों के संप्रेषण में। राशियों के जातक के लिए विशेष शुभ प्रबल होता है। ज्योतिष में 27 नक्षत्रों का पता लगा सकते हैं, जो व्यक्ति का प्रबलता है, I प्रत्येक नक्षत्र️ नक्षत्र️ नक्षत्र️ नक्षत्र️️️️️️️️️️

पांच हजार कक्षा फीट में वाटिका

श्रीराम मंदिर में प्रवेश करें। 27 नक्षत्रों के लिए 27 अगस्त तक ध्यान दें। साथ ही जानकारी दी गई है कि प्रत्येक नक्षत्र के अनुसार लगे पौधे से किस-किस राशि के जातकों को लाभ होता है।

नक्षत्र

अश्विनी- मीन- कुचाल

भरणी- मीन-आंवला

कृतिका- मीनर, वृषभ- गूलर

रोहिणी- वृष- जामिनी

मृगशिरा- वृष, मिठ-खार

आद्रा- मिठण- शश

पुनवसु- मिठण, कर्क-बांस

पुष्य- कर्क- पीपल

आशिला- कर्क- नागकेसर

मघा-सिंह- बरगद

पूर्वा फाल्गुनी- सिंह- ढाक

उत्तरा फाल्गुनी- सिंह, कन्या- पाड़, रूद्राक्ष

हस्त- कन्या- रीठा

शब्द- कन्या,- बैल

स्वाति- तू अरुण

विशाखा-अरु, वृश्चिक- विंकस

अनुराधा- वृश्चिक- मौलश्री

ज्येष्ठा- वृश्चिक- चीड़

मूल- धनु- साल

पूर्वाषाढ़ा- धनु- जलवेल्स

उत्तराषाढ़- धनु, मकर- कटहल

श्रावण- मकर- मदारी

धनीना- मकर, कुंभ- शमी

शतभिषा- कुंभा- चरणबी

पूर्वा भाद्रपद- कुंभ, मीन- आम

उत्तर भाद्रपद- मीन-

रेवती- मीन- महुआ

द्वारा प्रकाशित किया गया था: शशांक.बाजपेयी

नईदुनिया लोकल
नईदुनिया लोकल

.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

AllwNews