उमा भारती ने कहा 15 जनवरी 2022 के बाद मध्य प्रदेश में लागू करूंगी शराबबंदी कानून


भोपाल मध्य प्रदेश में शराब बंद करने के बाद, उमा भारती के तेवर बाद में फिर से लिखेंगे। राज्य में शराबबंदी कराकर व्यवस्था ने कहा। शरद ऋतु (1920) से शराब बंद कर चालू करें और 15 2022 तक हवा बंद करें। ये अभियान बंद करने के लिए अधिकार प्राप्त करने के लिए ऐसा करना होगा। बिहार के फार्मूले की ख़ूबियों की शराबबंदी फार्मले की खिताबी की। उमा भारत ने कहा था कि गंगाजी की यात्रा 15 2022 तक पूरी हो जाएगी। खाने में पेय पदार्थ खाने से. शराब बंद करने से लेकर 10 हजार अरब डॉलर तक की भरपाई के लिए, जो बाद में खराब हो जाएगा। टैग: शिवराज सिंह चौहान से कहा था कि अबी बार डाई सरकार हो, जो गांधीजी के आदर्श वाक्य पर हों।

लट्ठ से शराब बंद करना : उमी भारत ने कहा कि बिहार अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा और मंत्रिपरिषद शिवराज सिंह ने कहा कि शराबबंदी और शराब बंद करने वाला व्यक्ति जैसा है, पर मेरा है कि शराब बंद करने वाला लत्त से होगा। शिवराज सिंह चौहान और विष्णु शर्मा ने कहा। शराबबंदी में सहायक हो सकता है। उमाभारती ने कहा था कि नरेंद्र मोदी जी ज्योतिरादित्य में आने वाले बजे के पास फ़ोन नहीं बचता है। पूर्व सम्मेलन दविजय सिंह के भारत दौरे को संबोधित किया और कहा कि पता, क्या हो गया है।

संस्था में कोई जिम्मेदारी नहीं लें

उमा भारती ने साफ किया है कि वे संगठन में कोई जिम्मेदारी नहीं लें, जब तक गंगा नदी को निरमल तैयार नहीं करेगा, तब तक कोई भी ऐसा नहीं करेगा। …

नीब ने कहा – उमाजी, हम अपने साथ हैं

मध्य प्रदेश के अध्यक्ष के मीडिया सलाहकार सलूजा ने कहा कि आप शिवराज सरकार के विपरीत हैं। सलूजा नेक्ष भी। लिखा है आपने पहली बार 2021 को पहली बार घोषणा की थी। महिला दिवस से शुरू हो रहा था, पर लगाएँ। राज्य में जहरीली शराब से 70 से अधिक लोगों की मौत हो गई। इसलिए आप इस बार घोषणा पर टिके रहेंगे।

द्वारा प्रकाशित किया गया था: प्रशांत पांडे

नईदुनिया लोकल

.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *