Nav Samvat: नव संवत्सर लगते ही सभी ग्रह बदलेंगे अपनी राशियां | Hindu New Year 2079 or Vikram Nav Varsh Samvat or Nav Samvat begins on April 2nd: effects on zodiac signs


Astrology

lekhaka-Gajendra sharma

|

नई दिल्ली, 29 मार्च। श्री विक्रम संवत 2079, नव संवत्सर का प्रारंभ 2 अप्रैल 2022 शनिवार को हो रहा है। नव संवत्सर प्रारंभ होते ही सभी ग्रह अपना राशि परिवर्तन करेंगे। इसका शुभाशुभ फल प्राणियों, प्रकृति, पर्यावरण, राजनीतिक, आर्थिक, सामाजिक अवस्थाओं पर भिन्न-भिन्न पड़ेगा। आइए जानते हैं कौन-सा ग्रह कब राशि बदलेगा। सभी ग्रहों का राशि परिवर्तन होने के कारण अप्रैल माह विशेष है। सभी राशि के जातकों को इस दौरान ध्यान रखने की आवश्यकता है।

कब किस ग्रह का राशि परिवर्तन

  • 7 अप्रैल- मंगल मकर से कुंभ राशि में
  • 8 अप्रैल- बुध मीन से मेष राशि में
  • 11 अप्रैल- राहु वृषभ से मेष में
  • 11 अप्रैल- केतु वृश्चिक से तुला में
  • 13 अप्रैल- गुरु कुंभ से मीन में
  • 14 अप्रैल- सूर्य मीन से उच्च राशि मेष में
  • 27 अप्रैल- शुक्र कुंभ से उच्च राशि मीन में
  • 30 अप्रैल- शनि मकर से कुंभ राशि में

Navratri 2022: ऐंद्र योग और रेवती नक्षत्र में सिद्धिदायक होगा शक्ति का आगमनNavratri 2022: ऐंद्र योग और रेवती नक्षत्र में सिद्धिदायक होगा शक्ति का आगमन

नव संवत्सर के प्रारंभ में तीन ग्रह उच्च राशि के

2 अप्रैल को नव संवत्सर प्रारंभ होने के समय तीन ग्रह अपनी उच्च राशि में रहेंगे, जबकिशनि स्वराशि में रहने से शुभ प्रभाव प्राप्त होगा। नव संवत्सर के दिन मंगल अपनी उच्च राशि मकर में रहेगा। इसके साथ ही राहु अपनी उच्च राशि वृषभ और केतु अपनी उच्च राशि वृश्चिक में गोचर करता रहेगा। शनि स्वयं की राशि मकर में है।

English summary

The Hindu New Year 2079 or Vikram Nav Varsh Samvat and the Nav Samvat begins on April 2. The New Year is first day after the Amavasya (No moon) in the month of Chaitra. During this time all the planets will change their zodiac signs.

Leave a Reply

Your email address will not be published.