Fifa Evacuates Women Football Players And Their Families From Afghanistan – तालिबान संकट: अफगानिस्तान से निकाली गईं महिला फुटबॉल खिलाड़ी, कतर ने फीफा के साथ मिलकर किया काम


एजेंसी, दोहा/काबुल।
Published by: Jeet Kumar
Updated Sat, 16 Oct 2021 12:56 AM IST

सार

निकाले गए लोगों को काबुल से कतर एयरवेज की चार्टर फ्लाइट में सवार होकर दोहा लाया गया। कतर अगले साल पुरुष विश्व कप की मेजबानी करने वाला है।

ख़बर सुनें

फुटबॉल के वैश्विक निकाय फीफा ने शुक्रवार को कहा कि उसने एक जटिल बातचीत के बाद और कतर के समर्थन से अफगानिस्तान में महिला फुटबॉल खिलाड़ियों और उनके परिवार के करीब 100 लोगों को निकाल लिया है। इन्हें एक विमान के जरिये दोहा लाया गया।

कतर के विदेश मंत्री लोलवाह अल खातर ने ट्वीट किया, करीब 100 लोग विमान में सवार हुए जिनमें महिला खिलाड़ी व उनके परिजन शामिल हैं।

खिलाड़ियों की निकासी के लिए कतर ने फीफा के साथ मिलकर काम किया। इससे पहले, अंतरराष्ट्रीय संघ फीफाप्रो ने अगस्त में अफगानिस्तान की राष्ट्रीय महिला टीम की खिलाड़ियों की निकासी में भी मदद की थी।

अफगानिस्तान में तालिबान के कब्जे के बाद से महिला खिलाड़ियों की सुरक्षा को लेकर चिंता जताई जा रही थी। फीफा ने इस निकासी के लिए सुरक्षित मार्ग सुनिश्चित करने के लिए कतर की सरकार के प्रति आभार जताया।

कतर से लगातार जारी रहा समन्वय
सितंबर में, अफगान महिला युवा फुटबॉल टीम के सदस्य पाकिस्तान भाग गए थे, लेकिन तालिबान के कब्जे के बाद  कई अन्य खिलाड़ी वहीं फंसे रह गए। काबुल हवाई अड्डे के बाहर आत्मघाती हमलों से हालात और बढ़ गए। फीफा ने बताया कि वह अपने नेतृत्व समूह की निकासी पर अगस्त से कतर सरकार के साथ समन्वय कर रहा था और भविष्य में भी इस पर बारीकी से काम करना जारी रखेगा।

अमेरिका ने तालिबान के पूर्व नौकरशाहों से हटाया प्रतिबंध
अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने तालिबान के पुराने शासन (1996-2001) के नौकरशाहों पर लगे आतंकवाद संबंधी प्रतिबंधों को हटा दिया है। साथ ही कहा है कि इन सभी लोगों को अब अमेरिकी यात्रा की छूट रहेगी।

खामा प्रेस की रिपोर्ट के अनुसार इन नौकरशाहों ने 2001 में नई अफगान सरकार बनने के बाद से मानवीय कार्य किए थे और अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा सहायता बल के साथ भी अपना सहयोग जारी रखा। फॉक्स न्यूज के मुताबिक, अमेरिका के बाइडन प्रशासन ने कहा कि यह तालिबानी नौकरशाह बहुत दबाव और विपरीत परिस्थितियों में काम कर रहे थे।

विस्तार

फुटबॉल के वैश्विक निकाय फीफा ने शुक्रवार को कहा कि उसने एक जटिल बातचीत के बाद और कतर के समर्थन से अफगानिस्तान में महिला फुटबॉल खिलाड़ियों और उनके परिवार के करीब 100 लोगों को निकाल लिया है। इन्हें एक विमान के जरिये दोहा लाया गया।

कतर के विदेश मंत्री लोलवाह अल खातर ने ट्वीट किया, करीब 100 लोग विमान में सवार हुए जिनमें महिला खिलाड़ी व उनके परिजन शामिल हैं।

खिलाड़ियों की निकासी के लिए कतर ने फीफा के साथ मिलकर काम किया। इससे पहले, अंतरराष्ट्रीय संघ फीफाप्रो ने अगस्त में अफगानिस्तान की राष्ट्रीय महिला टीम की खिलाड़ियों की निकासी में भी मदद की थी।

अफगानिस्तान में तालिबान के कब्जे के बाद से महिला खिलाड़ियों की सुरक्षा को लेकर चिंता जताई जा रही थी। फीफा ने इस निकासी के लिए सुरक्षित मार्ग सुनिश्चित करने के लिए कतर की सरकार के प्रति आभार जताया।

कतर से लगातार जारी रहा समन्वय

सितंबर में, अफगान महिला युवा फुटबॉल टीम के सदस्य पाकिस्तान भाग गए थे, लेकिन तालिबान के कब्जे के बाद  कई अन्य खिलाड़ी वहीं फंसे रह गए। काबुल हवाई अड्डे के बाहर आत्मघाती हमलों से हालात और बढ़ गए। फीफा ने बताया कि वह अपने नेतृत्व समूह की निकासी पर अगस्त से कतर सरकार के साथ समन्वय कर रहा था और भविष्य में भी इस पर बारीकी से काम करना जारी रखेगा।

अमेरिका ने तालिबान के पूर्व नौकरशाहों से हटाया प्रतिबंध

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने तालिबान के पुराने शासन (1996-2001) के नौकरशाहों पर लगे आतंकवाद संबंधी प्रतिबंधों को हटा दिया है। साथ ही कहा है कि इन सभी लोगों को अब अमेरिकी यात्रा की छूट रहेगी।

खामा प्रेस की रिपोर्ट के अनुसार इन नौकरशाहों ने 2001 में नई अफगान सरकार बनने के बाद से मानवीय कार्य किए थे और अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा सहायता बल के साथ भी अपना सहयोग जारी रखा। फॉक्स न्यूज के मुताबिक, अमेरिका के बाइडन प्रशासन ने कहा कि यह तालिबानी नौकरशाह बहुत दबाव और विपरीत परिस्थितियों में काम कर रहे थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *