Lady Constable And Six Children Died Of Dengue Fever In Agra – आगरा: नहीं थम रहा डेंगू-बुखार का प्रकोप, महिला सिपाही और छह बच्चों की मौत


अमर उजाला ब्यूरो, आगरा
Published by: मुकेश कुमार
Updated Sat, 16 Oct 2021 12:03 AM IST

सार

आगरा के बरौली अहीर में बुखार से तीन बच्चों ने दम तोड़ दिया।वहीं बाह, लादूखेड़ा व मलपुरा में एक-एक बच्चे की जान चली गई। मथुरा निवासी महिला सिपाही को डेंगू था। उसका निजी अस्पताल में इलाज चल रहा था, जहां उसकी भी मौत हो गई। 

ख़बर सुनें

आगरा जिले में बुखार से बच्चों की मौत का सिलसिला जारी है। बरौली अहीर, बाह, लादूखेड़ा और मलपुरा में बुखार से छह और बच्चों की मौत हो गई है। इनके बारे में शुक्रवार को सूचना मिली। चार बच्चों की निजी पैथोलॉजी में कराई गई जांच में डेंगू की पुष्टि हुई थी। इधर, एत्माद्दौला के एक निजी अस्पताल में भर्ती सिपाही की शुक्रवार को डेंगू से मौत हो गई।

बरौली अहीर में चार साल के नमन यादव पुत्र मुकेश कुमार, 14 साल के ऋषिकेश पुत्र विजेंद्र निवासी कुआंखेड़ा और श्यामो निवासी छह साल की रोशनी पुत्री राजकुमार की बुखार से मौत हो गई है। परिजनों ने बताया कि तीन-चार दिन से बुखार आ रहा था। निजी अस्पताल में भर्ती थे, जहां जांच में डेंगू बताया गया था। 

गांव गुमान सिंह के पुरा में बच्चे की मौत
बाह के गांव गुमान सिंह के पुरा में 10 साल के कुलदीप पुत्र बलवीर सिंह को चार दिन से बुखार आ रहा था। मंगलवार को परिजन उसे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बाह लेकर गए। चिकित्सकों ने उसे आगरा रेफर कर दिया। परिजनों के अनुसार आगरा में जांच के दौरान कुलदीप को डेंगू की पुष्टि हुई। गुरुवार को कुलदीप ने दम तोड़ दिया। 

लादूखेड़ा निवासी मुकेश की छह माह की बेटी परिधि को तीन दिन पहले बुखार आया था। उपचार से हालत में सुधार नहीं हुआ और बृहस्पतिवार रात को उसकी मौत हो गई। मलपुरा निवासी शाहरूख खान के डेढ़ साल के तौफीक को चार दिन से बुखार आ रहा था। शुक्रवार को बच्चे ने दम तोड़ दिया।

डेंगू से महिला सिपाही की मौत
वहीं एत्माद्दौला के एक निजी अस्पताल में भर्ती सिपाही प्रेमलता निवासी मथुरा की शुक्रवार को मौत हो गई। उनको कई दिन से बुखार आ रहा था। मथुरा के अस्पताल में कराई गई जांच में डेंगू की पुष्टि होने पर उनको आगरा लाया गया था। 

11 मरीजों में डेंगू की पुष्टि
एसएन मेडिकल कॉलेज में भर्ती 11 मरीजों में डेंगू की पुष्टि हुई है। इसमें आगरा के सबसे ज्यादा नौ मरीज हैं। मथुरा और इटावा का एक-एक मरीज है। छह मरीज ठीक होने पर डिस्चार्ज कर दिए गए हैं। अब एसएन के डेंगू वार्ड में 14 मरीजों का इलाज चल रहा है। 

विस्तार

आगरा जिले में बुखार से बच्चों की मौत का सिलसिला जारी है। बरौली अहीर, बाह, लादूखेड़ा और मलपुरा में बुखार से छह और बच्चों की मौत हो गई है। इनके बारे में शुक्रवार को सूचना मिली। चार बच्चों की निजी पैथोलॉजी में कराई गई जांच में डेंगू की पुष्टि हुई थी। इधर, एत्माद्दौला के एक निजी अस्पताल में भर्ती सिपाही की शुक्रवार को डेंगू से मौत हो गई।

बरौली अहीर में चार साल के नमन यादव पुत्र मुकेश कुमार, 14 साल के ऋषिकेश पुत्र विजेंद्र निवासी कुआंखेड़ा और श्यामो निवासी छह साल की रोशनी पुत्री राजकुमार की बुखार से मौत हो गई है। परिजनों ने बताया कि तीन-चार दिन से बुखार आ रहा था। निजी अस्पताल में भर्ती थे, जहां जांच में डेंगू बताया गया था। 

गांव गुमान सिंह के पुरा में बच्चे की मौत

बाह के गांव गुमान सिंह के पुरा में 10 साल के कुलदीप पुत्र बलवीर सिंह को चार दिन से बुखार आ रहा था। मंगलवार को परिजन उसे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बाह लेकर गए। चिकित्सकों ने उसे आगरा रेफर कर दिया। परिजनों के अनुसार आगरा में जांच के दौरान कुलदीप को डेंगू की पुष्टि हुई। गुरुवार को कुलदीप ने दम तोड़ दिया। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *