Lakhimpur Kheri Violence Incident Main Accused Ashish Mishra Has Been Shifted To Govt Hospital Due To Suspected Dengue – Lakhimpur Kheri Violence: पुलिस रिमांड के बीच मुख्य आरोपी आशीष मिश्र की बिगड़ी तबीयत, अस्पताल में कराया गया भर्ती


सार

 तिकुनिया कांड के मुख्य आरोपी आशीष मिश्र की लखीमपुर जेल में डेंगू के लक्षण मिलने पर सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया है। उसके रक्त के नमूने को जांच के लिए भेजा है।

ख़बर सुनें

लखीमपुर खीरी के तिकुनिया कांड के मुख्य आरोपी केंद्रीय मंत्री के पुत्र आशीष मिश्र की जेल में तबीयत बिगड़ गई है। उन्हें बुखार होने के बाद लखीमपुर जेल से एक सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया है। 

पुलिस कस्टडी रिमांड पर चल रहे तिकुनिया कांड के मुख्य आरोपी आशीष मिश्र को लखीमपुर जेल में डेंगू के लक्षण मिलने के बाद सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया है। उसके रक्त के नमूने को जांच के लिए भेजा है। हालांकि अभी यह नहीं कहा जा सकता कि आशीष मिश्रा डेंगू से पीड़ित हैं या नहीं, उसका रक्त नमूना शुक्रवार को जांच के लिए भेजा गया था, रिपोर्ट आने के बाद ही इसकी पुष्टि होगी। 

लखीमपुर खीरी जिला जेल के अधीक्षक पीपी सिंह ने बताया कि इस बात की पुष्टि नहीं हुई है कि वह ( आशीष मिश्र) डेंगू से पीड़ित है या नहीं। उसका नमूना शुक्रवार को जांच के लिए भेजा गया था। रिपोर्ट आने के बाद तस्वीर साफ हो जाएगी।

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी के तिकुनिया में तीन अक्तूबर 2021 को हुई हिंसा में कुल आठ लोगों की मौत हुई थी, जिसमें चार किसान, दो भाजपा कार्यकर्ता, एक ड्राइवर व एक पत्रकार शामिल है। इस मामले में दोनों पक्षों से दो मुकदमे दर्ज किए गए थे, जिसमें एक पक्ष से केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र टेनी के पुत्र आशीष मिश्र मोनू मुख्य आरोपी बनाए गए हैं। जांच कर रही पर्यवेक्षण समिति ने अब तक कुल 13 लोगों की गिरफ्तारियां की हैं, जिनसे पूछताछ के आधार पर अन्य लोगों को भी गिरफ्तार करने का सिलसिला जारी है। 
इससे पहले लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में मुख्य आरोपी आशीष मिश्र की दोबारा रिमांड मंजूर हुई थी। शुक्रवार को 24 अक्तूबर 5:00 बजे तक की रिमांड मिली थी। पुलिस ने कोर्ट से रिमांड की मांग की थी, जज ने दो दिन रिमांड की मंजूरी दे दी।  

इससे पहले लखीमपुर खीरी के तिकुनिया कांड में सीजेएम अदालत से जमानत अर्जी खारिज होने के बाद गुरुवार को मुख्य आरोपी के रूप में नामजद आशीष मिश्र मोनू ने जिला जज मुकेश मिश्र की अदालत में जमानत प्रार्थना पत्र अपने वकील के जरिए पेश किया था।

जमानत अर्जी में खुद को निर्दोष बताते हुए आशीष मिश्र मोनू ने बताया कि उसे झूठा फंसाया गया है। जिला जज मुकेश मिश्र ने जमानत अर्जी पर सुनवाई के लिए 28 अक्तूबर की तिथि मुकर्रर की है।

विस्तार

लखीमपुर खीरी के तिकुनिया कांड के मुख्य आरोपी केंद्रीय मंत्री के पुत्र आशीष मिश्र की जेल में तबीयत बिगड़ गई है। उन्हें बुखार होने के बाद लखीमपुर जेल से एक सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया है। 

पुलिस कस्टडी रिमांड पर चल रहे तिकुनिया कांड के मुख्य आरोपी आशीष मिश्र को लखीमपुर जेल में डेंगू के लक्षण मिलने के बाद सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया है। उसके रक्त के नमूने को जांच के लिए भेजा है। हालांकि अभी यह नहीं कहा जा सकता कि आशीष मिश्रा डेंगू से पीड़ित हैं या नहीं, उसका रक्त नमूना शुक्रवार को जांच के लिए भेजा गया था, रिपोर्ट आने के बाद ही इसकी पुष्टि होगी। 

लखीमपुर खीरी जिला जेल के अधीक्षक पीपी सिंह ने बताया कि इस बात की पुष्टि नहीं हुई है कि वह ( आशीष मिश्र) डेंगू से पीड़ित है या नहीं। उसका नमूना शुक्रवार को जांच के लिए भेजा गया था। रिपोर्ट आने के बाद तस्वीर साफ हो जाएगी।

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी के तिकुनिया में तीन अक्तूबर 2021 को हुई हिंसा में कुल आठ लोगों की मौत हुई थी, जिसमें चार किसान, दो भाजपा कार्यकर्ता, एक ड्राइवर व एक पत्रकार शामिल है। इस मामले में दोनों पक्षों से दो मुकदमे दर्ज किए गए थे, जिसमें एक पक्ष से केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र टेनी के पुत्र आशीष मिश्र मोनू मुख्य आरोपी बनाए गए हैं। जांच कर रही पर्यवेक्षण समिति ने अब तक कुल 13 लोगों की गिरफ्तारियां की हैं, जिनसे पूछताछ के आधार पर अन्य लोगों को भी गिरफ्तार करने का सिलसिला जारी है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

AllwNews