Nawab Malik Declined Allegations Of Devendra Fadnavis, Said I Will Explode The Hydrogen Bomb Of The Underworld Tomorrow At 10 Am – अंडरवर्ल्ड कनेक्शन: नवाब मलिक आज करेंगे बड़ा खुलासा, देवेंद्र फडणवीस के आरोपों का देंगे जवाब


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, मुंबई
Published by: प्रांजुल श्रीवास्तव
Updated Wed, 10 Nov 2021 08:26 AM IST

सार

नवाब मलिक ने भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस द्वारा लगाए गए आरोपों का खंडन किया है। वह आज दस बजे बड़ा खुलासा करने वाले हैं। 

ख़बर सुनें

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस द्वारा लगाए गए आरोपों पर एनसीपी नेता नवाब मलिक आज बड़ा खुलासा करेंगे। उन्होंने मंगलवार को प्रेसवार्ता कर खुलासा किया था कि बुधवार को सुबह दस बजे मैं देवेंद्र फडणवीस के अंडरवर्ल्ड कनेक्शन पर खुलासा करूंगा। प्रेसवार्ता में उन्होंने कहा था कि देंवेंद्र फडणवीस द्वारा मेरे खिलाफ झूठ का आडंबर खड़ा किया गया है। अगर झूठ बोलो तो ढंग से बोलो। देवेंद्र फडणवीस ने अंडरवर्ल्ड का खेल शुरू किया है। 
उनके मुखबिर कच्चे खिलाड़ी हैं 
नवाब मलिक ने कहा कि भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस के मुखबिर कच्चे खिलाड़ी हैं। आरोपों को खारिज करते हुए एनसीपी नेता ने कहा कि हमने किसी बम धमाके के आरोपी से जमीन नहीं खरीदी है। हमने सलीम पटेल नाम के शख्स से जमीन खरीदी थी। आरोप है कि हमने फर्जी किराएदार रख लिए, लेकिन ऐसा नहीं है। वहां पर सोसायटी है। उसके पीछे जमीन पर झुग्गी झोपड़ियां हैं। वहां पर मेरा एक गोदाम भी है, उस जमीन को लीज पर लिया गया था। उसी में मेरी चार दुकानें थीं। हमने जमीन की ओनरशिप पूरी प्रक्रिया के बाद ली है। मेरे पास सारे कागज भी हैं।  

जिस एजेंसी के पास जाना है जाइए, हम तैयार हैं
एनसीपी नेता ने कहा कि देंवेंद्र फडणवीस मेरे खिलाफ कागजों को अधिकारियों को देना चाहते हैं। वे जिस एजेंसी के पास जाना चाहते हैं जाएं। हम तैयार हैं। उन्होंने कहा कि मेरे पूरे जीवन में मुझ पर कोई आरोप नहीं लगा पाया है। जिस जमीन का जिक्र भाजपा नेता ने किया है। उस जमीन पर हम किराएदार थे। जमीन की मालकिन चाहती थी कि हम मालिकाना हक ले लें, तो हमने पूरे पैसे देकर हक लिया है। जहां तक सरदार शहा वली खान का जिक्र है तो जमीन की 300 मीटर टुकड़े पर उसके पिता ने अपना नाम चढ़ा लिया था। हमने  जब प्रॉपर्टी को रजिस्टर कराया तो 300 मीटर का पैसा देकर उस जमीन को सरेंडर कराने का काम किया था। 

उसी जमीन पर था मेरा चुनाव कार्यालय 
मलिक ने कहा कि उस प्रॉपर्टी को गोवा वाला कंपाउंड भी कहा जाता है। जब 1996 में भारतीय जनता पार्टी और शिवसेना की सरकार महाराष्ट्र में थी, तो उपचुनाव में मेरी जीत हुई थी। मेरा चुनाव कार्यालय उसी गोवा वाले कंपाउंड में था। उसी कार्यालय में चुनाव की जीत का जश्न भी मनाया गया था।

विस्तार

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस द्वारा लगाए गए आरोपों पर एनसीपी नेता नवाब मलिक आज बड़ा खुलासा करेंगे। उन्होंने मंगलवार को प्रेसवार्ता कर खुलासा किया था कि बुधवार को सुबह दस बजे मैं देवेंद्र फडणवीस के अंडरवर्ल्ड कनेक्शन पर खुलासा करूंगा। प्रेसवार्ता में उन्होंने कहा था कि देंवेंद्र फडणवीस द्वारा मेरे खिलाफ झूठ का आडंबर खड़ा किया गया है। अगर झूठ बोलो तो ढंग से बोलो। देवेंद्र फडणवीस ने अंडरवर्ल्ड का खेल शुरू किया है। 

उनके मुखबिर कच्चे खिलाड़ी हैं 

नवाब मलिक ने कहा कि भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस के मुखबिर कच्चे खिलाड़ी हैं। आरोपों को खारिज करते हुए एनसीपी नेता ने कहा कि हमने किसी बम धमाके के आरोपी से जमीन नहीं खरीदी है। हमने सलीम पटेल नाम के शख्स से जमीन खरीदी थी। आरोप है कि हमने फर्जी किराएदार रख लिए, लेकिन ऐसा नहीं है। वहां पर सोसायटी है। उसके पीछे जमीन पर झुग्गी झोपड़ियां हैं। वहां पर मेरा एक गोदाम भी है, उस जमीन को लीज पर लिया गया था। उसी में मेरी चार दुकानें थीं। हमने जमीन की ओनरशिप पूरी प्रक्रिया के बाद ली है। मेरे पास सारे कागज भी हैं।  

जिस एजेंसी के पास जाना है जाइए, हम तैयार हैं

एनसीपी नेता ने कहा कि देंवेंद्र फडणवीस मेरे खिलाफ कागजों को अधिकारियों को देना चाहते हैं। वे जिस एजेंसी के पास जाना चाहते हैं जाएं। हम तैयार हैं। उन्होंने कहा कि मेरे पूरे जीवन में मुझ पर कोई आरोप नहीं लगा पाया है। जिस जमीन का जिक्र भाजपा नेता ने किया है। उस जमीन पर हम किराएदार थे। जमीन की मालकिन चाहती थी कि हम मालिकाना हक ले लें, तो हमने पूरे पैसे देकर हक लिया है। जहां तक सरदार शहा वली खान का जिक्र है तो जमीन की 300 मीटर टुकड़े पर उसके पिता ने अपना नाम चढ़ा लिया था। हमने  जब प्रॉपर्टी को रजिस्टर कराया तो 300 मीटर का पैसा देकर उस जमीन को सरेंडर कराने का काम किया था। 

उसी जमीन पर था मेरा चुनाव कार्यालय 

मलिक ने कहा कि उस प्रॉपर्टी को गोवा वाला कंपाउंड भी कहा जाता है। जब 1996 में भारतीय जनता पार्टी और शिवसेना की सरकार महाराष्ट्र में थी, तो उपचुनाव में मेरी जीत हुई थी। मेरा चुनाव कार्यालय उसी गोवा वाले कंपाउंड में था। उसी कार्यालय में चुनाव की जीत का जश्न भी मनाया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *