Punjab Congress Legislature Party Meeting Will Be Held Again On Sunday – पंजाब: सुनील जाखड़ को सीएम बनाने पर अड़ंगा, इस मंत्री ने जताई आपत्ति, आज फिर होगी विधायक दल की बैठक


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, चंडीगढ़
Published by: ajay kumar
Updated Sun, 19 Sep 2021 12:04 AM IST

सार

पंजाब का अगला मुख्यमंत्री कौन होगा, इसका चयन सोनिया गांधी करेंगी। पंजाब कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष सुनील जाखड़ का नाम सीएम की रेस में सबसे आगे चल रहा है लेकिन मंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा ने इस पर आपत्ति जता दी है। अब रविवार को एक बार फिर विधायक दल की बैठक होगी। रविवार सुबह तक नए मुख्यमंत्री की घोषणा हो सकती है। 

ख़बर सुनें

पंजाब प्रदेश कांग्रेस विधायक दल की एक और बैठक रविवार को सुबह 11 बजे बुलाई गई है। इस बैठक में भी विधायकों के साथ हाईकमान द्वारा भेजे गए तीनों पर्यवेक्षक मौजूद रहेंगे। इससे पहले शनिवार शाम चंडीगढ़ स्थित कांग्रेस भवन में पंजाब कांग्रेस विधायक दल की बैठक में नेता के चयन की जिम्मेदारी पार्टी हाईकमान को सौंप दी गई। 

सूत्रों के अनुसार बैठक में पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सुनील जाखड़ के नाम पर सहमति बन गई थी लेकिन यह भी पता चला है कि बैठक के दौरान सुखजिंदर सिंह रंधावा ने किसी हिंदू को विधायक दल का नेता बनाए जाने पर आपत्ति दर्ज कराते हुए जाट-सिख को नेता बनाने की मांग रख दी है। रंधावा अपनी इस मांग पर अड़े हैं, जिसे ध्यान में रखते हुए हाईकमान ने रविवार को विधायक दल की फिर से बैठक बुलाकर नेता चुनने का फैसला किया है।

सोनिया गांधी घोषित करेंगी विधायक दल का नेता
कैप्टन अमरिंदर सिंह के इस्तीफे के बाद पंजाब कांग्रेस विधायक दल (सीएलपी) की शनिवार शाम हुई बैठक में दल के नेता का फैसला पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी पर छोड़ दिया है। इस संबंध में शनिवार देर रात या रविवार सुबह एलान होने की उम्मीद है। चंडीगढ़ में शनिवार शाम बुलाई गई पंजाब कांग्रेस विधायक दल की बैठक से पहले ही कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया। 

राज्यपाल को इस्तीफा सौंपने के बाद कैप्टन विधायक दल की बैठक में नहीं पहुंचे, हालांकि उनके समर्थक सभी विधायकों ने इसमें शिरकत की। विधायक दल की बैठक में 79 विधायक और पार्टी हाईकमान द्वारा नियुक्त किए गए तीन आब्जर्वर भी उपस्थित रहे। वहीं, आम आदमी पार्टी से कांग्रेस में शामिल हुए विधायक सुखपाल सिंह खैरा, जगदेव सिंह कमालू, निर्मल सिंह खालसा और निर्मल सिंह मनशिआ भी कांग्रेस भवन में मौजूद थे लेकिन उन्हें विधायक दल की बैठक में प्रवेश नहीं दिया गया।

बैठक के बाद, पंजाब मामलों के प्रभारी हरीश रावत ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि विधायक दल की बैठक में सर्वसम्मति से दो प्रस्ताव पारित किए गए हैं। एक प्रस्ताव पारित कर विधायकों ने कैप्टन अमरिंदर सिंह का धन्यवाद किया और पार्टी के प्रति उनके योगदान की सराहना की, जबकि दूसरा प्रस्ताव पारित कर नया मुख्यमंत्री चुनने का अधिकार पार्टी हाईकमान को सौंप दिया। 

रावत ने आगे कहा कि विधायक दल के नए नेता का एलान जल्द ही कर दिया जाएगा। कैप्टन की तारीफ करते हुए रावत ने कहा कि कैप्टन ने अपने कार्यकाल के दौरान अपनी काबलियत से काम किया है और पंजाब को एक अच्छी सरकार दी है। उन्होंने कहा कि भले ही कैप्टन को इस दौरान चुनौतियों का सामना करना पड़ा लेकिन उन्होंने इन चुनौतियों के हल भी तलाशे। इस मौके पर अजय माकन ने कहा कि जहां एक प्रस्ताव पारित कर कैप्टन अमरिंदर सिंह का धन्यवाद किया गया है, वहीं पार्टी यह उम्मीद भी करती है कि कैप्टन भविष्य में भी पार्टी का इसी तरह मार्गदर्शन करते रहेंगे।

सुनील जाखड़ होंगे अगले मुख्यमंत्री
पार्टी सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, शनिवार शाम हुई बैठक में विधायक दल ने सर्वसम्मति से सुनील जाखड़ को अपना नेता चुन लिया है। हालांकि इसकी विधिवत घोषणा सोनिया गांधी द्वारा ही की जाएगी। घोषणा के तुरंत बाद सुनील जाखड़ राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश करेंगे। सुनील जाखड़ पंजाब प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष रह चुके हैं। हाल ही में हाईकमान ने उनसे यह पद लेकर नवजोत सिंह सिद्धू को प्रदेश प्रधान बनाया था। उल्लेखनीय उस समय भी सुनील जाखड़ ने बातचीत के दौरान ये संकेत दिए थे कि पार्टी उन्हें बड़ी जिम्मेदारी सौंपना चाहती है।

विस्तार

पंजाब प्रदेश कांग्रेस विधायक दल की एक और बैठक रविवार को सुबह 11 बजे बुलाई गई है। इस बैठक में भी विधायकों के साथ हाईकमान द्वारा भेजे गए तीनों पर्यवेक्षक मौजूद रहेंगे। इससे पहले शनिवार शाम चंडीगढ़ स्थित कांग्रेस भवन में पंजाब कांग्रेस विधायक दल की बैठक में नेता के चयन की जिम्मेदारी पार्टी हाईकमान को सौंप दी गई। 

सूत्रों के अनुसार बैठक में पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सुनील जाखड़ के नाम पर सहमति बन गई थी लेकिन यह भी पता चला है कि बैठक के दौरान सुखजिंदर सिंह रंधावा ने किसी हिंदू को विधायक दल का नेता बनाए जाने पर आपत्ति दर्ज कराते हुए जाट-सिख को नेता बनाने की मांग रख दी है। रंधावा अपनी इस मांग पर अड़े हैं, जिसे ध्यान में रखते हुए हाईकमान ने रविवार को विधायक दल की फिर से बैठक बुलाकर नेता चुनने का फैसला किया है।

सोनिया गांधी घोषित करेंगी विधायक दल का नेता

कैप्टन अमरिंदर सिंह के इस्तीफे के बाद पंजाब कांग्रेस विधायक दल (सीएलपी) की शनिवार शाम हुई बैठक में दल के नेता का फैसला पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी पर छोड़ दिया है। इस संबंध में शनिवार देर रात या रविवार सुबह एलान होने की उम्मीद है। चंडीगढ़ में शनिवार शाम बुलाई गई पंजाब कांग्रेस विधायक दल की बैठक से पहले ही कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *