Uk Reacts To Reciprocal Move Engaging With India On Vaccine Certification Recognition – टीकाकरण नीति पर बवाल: भारत की कार्रवाई पर ब्रिटेन का जवाब, तकनीकी सहयोग पर भारत से संपर्क में हैं


वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला, लंदन
Published by: प्रशांत कुमार झा
Updated Sat, 02 Oct 2021 08:00 AM IST

सार

टीकाकरण की दोनों खुराक लेने वाले भारतीय यात्रियों को ब्रिटेन ने अपने यहां आने के बाद भी क्वारंटाइन में रखने का फैसला किया था, इस पर भारत सरकार ने भी करारा जवाब दिया है। भारत सरकार ने यूनाइटेड किंगडम से आने वाले यात्रियों को क्वारंटाइन में रखने का फैसला सुनाया है। 

विदेशी यात्री (फाइल फोटो)
– फोटो : पीटीआई

ख़बर सुनें

विस्तार

भारतीय कोरोना वैक्सीन सर्टिफिकेट को मान्यता न देना ब्रिटिश सरकार को महंगा पड़ गया। कोविशील्ड की दोनों टीकाकरण के बाद भी  ब्रिटेन ने भारतीय यात्रियों के लिए क्वारंटाइन से गुजरने का आदेश जारी किया था। इसी बीच भारत ने करारा जवाब दिया है। अब ब्रिटेन से आने वाले लोगों के लिए भारत में 10 दिनों तक क्वारंटीन में रहना जरूरी होगा। इस पर ब्रिटेन ने कहा कि भारत की टीकाकरण नीति को अपने देश में विस्तार करने और लागू करने के लिए तकनीकी तौर पर भारत के साथ जुड़े हुए हैं। भारत में ब्रिटिश उच्चायोग के प्रवक्ता ने कहा कि यूनाइटेड किंगडम दुनिया भर के देशों और क्षेत्रों में टीकाकरण नीति का विस्तार करने पर काम जारी रखे हुए हैं, जल्द ही इसे मान्यता दी जाएगी। 

दरअसल, ब्रिटेन ने भारत के कोरोना वैक्सीन सर्टिफिकेट को अब तक मान्यता नहीं दी है, जिस पर जवाबी कार्रवाई करते हुए यह फैसला लिया गया है। पहले ब्रिटेन ने भारत में लगने वाली कोविशील्ड वैक्सीन को ही मंजूरी प्राप्त टीकों से बाहर रखा था। भारत ने करारा जवाब देते हुए कार्रवाई की चेतावनी दी थी। इसके बाद ब्रिटिश सरकार ने वैक्सीन को तो मंजूरी दे दी, लेकिन तकनीकी पेच फंसाते हुए सर्टिफिकेट पर सवाल उठा दिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *