Up Congress General Secretary Priyanka Gandhi Vadra Reached Agra Meet With Arun Family – यूपी: अरुण के परिजनों से मिलने आगरा पहुंचीं प्रियंका गांधी, पुलिस हिरासत में हुई थी वाल्मीकि की मौत


अमर उजाला नेटवर्क, आगरा
Published by: Abhishek Saxena
Updated Wed, 20 Oct 2021 11:17 PM IST

सार

थाना जगदीशपुरा के मालाखाना में चोरी हुई थी। जिसमें 25 लाख रुपये चोरी हुए थे। चोरी का शक सफाई कर्मचारी अरुण पर था। पुलिस ने उसे हिरासत में लिया था। अरुण की मौत मंगलवार रात को हो गई।

अरुण के घर प्रियंका गांधी वाड्रा
– फोटो : वीडियो से लगी गई तस्वीर

ख़बर सुनें

विस्तार

आगर में सफाई कर्मचारी अरुण नरवार की मौत के बाद प्रदेश में सियासत का पारा चढ़ गया था। बुधवार देर रात प्रियंका गांधी वाड्रा ने आगरा पहुंचकर अरुण के परिजनों से मुलाकात की। परिवार को सांत्वना दी। प्रियंका गांधी वाड्रा ने बुधवार सुबह ट्वीट कर भाजपा सरकार और पुलिस पर निशाना साधा था।  प्रियंका गांधी वाड्रा ने अरुण के घर में बंद कमरे में मुलाकात की है।

प्रियंका गांधी वाड्रा ने किया था ट्वीट

पुलिस अभिरक्षा में अरुण की मौत पर कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने भी ट्वीट किया। उन्होंने लिखा कि, किसी को पुलिस कस्टडी में पीट-पीट कर मार देना कहां का न्याय है? आगरा पुलिस कस्टडी में अरुण वाल्मीकि की मौत की घटना निंदनीय है। भगवान वाल्मीकि जयंती के दिन उप्र सरकार ने उनके संदेशों के खिलाफ काम किया है। उच्च स्तरीय जांच व पुलिस वालों पर कार्रवाई हो व पीड़ित परिवार को मुआवजा मिले।

मालखाना में 17 अक्तूबर की रात चोरी हो गई थी

थाना जगदीशपुरा के मालखाना में 17 अक्तूबर की रात चोरी हो गई थी। चोर दरवाजे और बक्से का ताला तोड़कर 25 लाख रुपये ले गया था। इस मामले में थाना प्रभारी निरीक्षक सहित छह को निलंबित किया गया था। पुलिस चोर की तलाश में लगी थी। पुलिस की विवेचना में अरुण का नाम सामने आया। वह लोहामंडी स्थित पुल छिंगामोदी, वाल्मीकि बस्ती के रहने वाला था। घटना के बाद से फरार था। पुलिस ने मंगलवार दोपहर आरोपी को हिरासत में ले लिया। उसे थाने लाकर पूछताछ की जा रही थी।

अरुण ने चोरी करना कबूल किया था

एसएसपी मुनिराज जी. ने बताया कि अरुण ने चोरी करना कबूल किया था। रुपये घर में रखे होने के बारे में बताया। इस पर तड़के चार बजे पुलिस उसे घर लेकर गई। 15 लाख रुपये बरामद किए। बरामदगी के दौरान अरुण की तबीयत बिगड़ गई। इस पर पुलिस और परिजन अस्पताल ले गए, जहां डाक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। पोस्टमार्टम कराया गया है। परिवार की ओर से मुकदमा दर्ज कराया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। शाम तकरीबन साढ़े तीन बजे पोस्टमार्टम के बाद शव का अंतिम संस्कार पुलिस की मौजूदगी में कराया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *