शर्मा, जिंदल के खिलाफ कार्रवाई से पार्टी में मुसलमानों का विश्वास बहाल करने में मदद मिलेगी | Action against Sharma, Jindal will help restore the confidence of Muslims in the party



डिजिटल, नई दिल्ली। नूपुर शर्मा और नवीन कुमार जिंदल के निलंबन के बाद भाजपा के अल्पसंख्यक नेताओं को लगता है कि इससे पार्टी में मुस्लिम समुदाय का विश्वास बहाल करने में मदद मिलेगी। रविवार को बीजेपी ने पार्टी की राष्ट्रीय प्रवक्ता नूपुर शर्मा को एक टीवी डिबेट के दौरान पैगंबर मुहम्मद पर उनकी टिप्पणी के लिए निलंबित कर दिया। दिल्ली भाजपा ने अपने मीडिया प्रमुख जिंदल को इस्लाम के संस्थापक पर सोशल मीडिया पर टिप्पणी के लिए पार्टी से निष्कासित कर दिया।

भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जमाल सिद्दीकी ने आईएएनएस को बताया कि दो नेताओं के खिलाफ कार्रवाई से समुदाय में कड़ा संदेश गया है कि भाजपा की बातों और कार्रवाई में कोई अंतर नहीं है। हमारे नेताओं द्वारा की गई टिप्पणी भाजपा के विचार नहीं हैं और यह भाजपा प्रमुख द्वारा नहीं कहा गया है। प्रधानमंत्री और पार्टी प्रमुख द्वारा उनके खिलाफ कार्रवाई के बाद (मुस्लिम) समुदाय में यह भावना है कि भाजपा की कथनी और करनी में कोई अंतर नहीं है। इस कार्रवाई से एक बार फिर पार्टी में मुस्लिम समुदाय का विश्वास बहाल करने में मदद मिलेगी।

सिद्दीकी ने उल्लेख किया कि कार्रवाई से पार्टी के भीतर एक कड़ा संदेश जाएगा कि किसी को भी अपने प्रचार के लिए पार्टी लाइन के खिलाफ बोलने की अनुमति नहीं है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कई मौकों पर पार्टी नेताओं को सलाह दी कि वे ऐसी टिप्पणी ना करें, जिससे किसी की धार्मिक भावना को ठेस पहुंचे। उन्होंने कहा, प्रधानमंत्री ने ऐसी टिप्पणी नहीं करने की सलाह दी जिससे समुदाय या व्यक्ति की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचे। कई मौकों पर उन्होंने (प्रधानमंत्री) कहा कि हमें विकास की राजनीति को आगे बढ़ाना है। उन्होंने यह भी कहा था कि राजनीति करते हुए विकास, कुछ हमें रोकने, मोड़ने या पटरी से उतारने की कोशिश करेंगे लेकिन हमें उनके जाल में नहीं फंसना चाहिए।

एक अल्पसंख्यक नेता ने कहा कि यह कार्रवाई पार्टी को मुस्लिम समुदाय से एक मजबूत संदेश के साथ जोड़ेगी कि भाजपा धार्मिक आधार पर भेदभाव नहीं करती है। भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव अरुण सिंह ने रविवार को एक प्रेस बयान में दोनों नेताओं को पार्टी से निलंबित करने से पहले कहा था, भारत के इतिहास के हजारों वर्षो के दौरान, हर धर्म फला-फूला है। भारतीय जनता पार्टी सभी धर्मो का सम्मान करती है। भाजपा किसी भी धर्म के किसी भी धार्मिक व्यक्ति के अपमान की कड़ी निंदा करती है।

 

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

AllwNews