Agusta was corrupt, washed away in BJP laundry | अगस्ता भ्रष्ट था, भाजपा लॉन्ड्री में धुलकर साफ हो गया 



डिजिटल डेस्क, दिल्ली। कांग्रेस ने वीवीआईपी हेलीकॉप्टर घोटाले से जुडी इटली की कंपनी से बैन हटाने को लेकर मोदी सरकार पर हमला बोला है। पार्टी ने प्रधानमंत्री पर भ्रष्टाचार को लेकर दोहरा मापदंड अपनाने का भी आरोप लगाया है। पार्टी ने सवाल किया कि क्या पीएम की इटली यात्रा के दौरान कोई डील हुई है। पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने इस मुद्दे पर सरकार पर तंज करते हुए कहा कि पहले अगस्ता भ्रष्ट था, अब भाजपा लॉड्री में धुलकर साफ हो गया है।

सरकार भ्रष्ट कंपनी पर मेहरबान क्यों?

बता दें कि कांग्रेस पार्टी प्रवक्ता गौरव वल्लभ ने कांग्रेस मुख्यालय में मीडिया से बात करते हुए कहा कि सरकार भ्रष्ट कंपनी पर मेहरबान क्यों हैं। वल्लभ ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी इटली की कंपनी अगस्ता वेस्टलैंड को एक भ्रष्टाचारी कंपनी कह चुके हैं। इसके बावजूद सरकार ने पहले इस कंपनी को मेक इन इंडिया प्रोग्राम में हिस्सा लेने की इजाजत दी और अब कंपनी पर लगाए गए सभी तरह के प्रतिबंधों को हटा लिया गया है। उन्होंने कहा कि पीएम अभी इटली गए थे। वल्लभ ने दावा किया कि वहां एक बैठक में अगस्ता वेस्टलैंड कंपनी को लेकर चर्चा हुई। इस बैठक में एनएसए अजित डोवाल और विदेश मंत्री जयशंकर भी शामिल हुए।

पीएम मोदी देश को बताएं, कंपनी भ्रष्ट है या नहीं

पीएम के इटली से लौटने के बाद सभी प्रतिबंध हटा दिए। कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि प्रधानमंत्री को देश को बताना चाहिए कि अब यह कंपनी भ्रष्ट या नहीं? पीएम को देश को बताना चाहिए कि उनकी इस मामले में कोई सीक्रेट डील हुई है या नहीं। इसके साथ पार्टी ने पीएम से देशवासियों से झूठ बोलने के लिए माफी मांगने की भी मांग की है। गौरव वल्लभ ने कहा कि कांग्रेस सरकार ने इस कंपनी को 1620 करोड़ रुपए दिए थे और 2954 करोड़ रुपए वापस ले लिए थे। ऐसे में यह सवाल है कि सरकार की कंपनी को क्लीनचिट देने के बाद इंटरनेशनल आर्बिट्रेशन में केस चलेगा या नहीं। क्या सरकार केस वापस ले लेगी। 

मोदी सरकार पर साधा निशाना

आपको बता दें कि कांग्रेस पार्टी प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने भी अगस्टा वेस्टलैंड को लेकर सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि सरकार और अगस्ता (फिनमेकेनिका) के बीच गुप्त समझौता क्या है? क्या अब उस कंपनी से डील करना ठीक है, जिसे पीएम और सरकार रिश्वत देने वाली फर्जी कपंनी बता चुके हैं।

 

 





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

AllwNews