BJP will come with a mix of experience and youthful enthusiasm of senior and elderly leaders | वरिष्ठ और बुजुर्ग नेताओं के अनुभव और युवा जोश के मिश्रण के साथ उतरेगी भाजपा



डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव को लेकर भाजपा ने अब ऐसे पुराने, बुजुर्ग और अनुभवी नेताओं को भी चुनावी अभियान से जोड़ने का फैसला किया है, जिनके पास फिलहाल पार्टी में कोई दायित्व और पद नहीं है या जो किन्ही वजहों से सक्रिय राजनीति से दूर हो गए हैं। भाजपा संगठन के एक बड़े नेता ने आईएएनएस से बात करते हुए बताया कि वरिष्ठ नेताओं का सम्मान करना हमेशा से भाजपा की परंपरा रही है और इसी के तहत उनके अनुभव का लाभ उठाने और मार्गदर्शन प्राप्त करने के लिए चुनावी अभियान से भी उन्हें जोड़ा जा रहा है।

आईएएनएस से बात करते हुए भाजपा नेता ने बताया कि संगठन ने विधानसभा से लेकर जिला और राज्य स्तर तक वरिष्ठ और अनुभवी कार्यकर्ताओं का मार्गदर्शन और फीडबैक हासिल करना तय किया है ताकि पार्टी जमीनी मुद्दों के आधार पर अपनी रणनीति बना सके। पार्टी अपने ऐसे कई अनुभवी और वरिष्ठ कार्यकर्ताओं को चुनावी दायित्व भी देने जा रही है। पार्टी अपने वरिष्ठ और बुजुर्ग नेताओं एवं कार्यकर्ताओं के अनुभव और युवा नेताओं और कार्यकर्ताओं के जोश के मिश्रण के साथ चुनावी मैदान में उतरने जा रही है, क्योंकि पार्टी को ऐसा लगता है कि इसका लाभ कई मोचरें पर हो सकता है। इसलिए पार्टी चुनावी अभियान में बुजुर्ग और अनुभवी नेताओं को भी सम्मान और महत्व देने जा रही है।

आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्वयं नमो एप पर कमल पुष्प अभियान के जरिए जनसंघ और भाजपा के पुराने कार्यकर्ताओं के योगदान का सम्मान कर रहे हैं। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, गृह मंत्री अमित शाह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह समेत पार्टी के तमाम दिग्गज नेता विभिन्न राज्यों के बुजुर्ग नेताओं से मुलाकात कर उनका आशीर्वाद और फीडबैक भी ले रहे हैं। रविवार को हुई भाजपा राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में भी वरिष्ठ और बुजुर्ग नेताओं के सम्मान और मार्गदर्शन प्राप्त करने को लेकर चर्चा हुई थी।

(आईएएनएस)



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

AllwNews