Mamata Banerjee can’t be anti Hindu, she is Brahmin | ममता बनर्जी हिंदू विरोधी नहीं हो सकतीं, वह ब्राह्मण हैं



डिजिटल डेस्क, पणजी। तृणमूल कांग्रेस ने बुधवार को गोवा में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और पार्टी की संस्थापक ममता बनर्जी को लगातार हिंदू विरोधी बताने के लिए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को आड़े हाथों लिया। गोवा तृणमूल कांग्रेस की नेता किरण कंडोलकर ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ममता बनर्जी को हिंदू विरोधी के रूप में पेश करने की कोशिश की जा रही है। मैं गोवा के लोगों को बताना चाहता हूं कि ममता बनर्जी को हिंदू विरोधी कहने वाले भाजपा नेताओं के बयान निराधार हैं।

कंडोलकर ने कहा, वह हिंदू विरोधी नहीं हो सकतीं। ममता बनर्जी ब्राह्मण समाज से ताल्लुक रखती हैं। उनके पिता एक स्वतंत्रता सेनानी थे। वह स्वतंत्रता संग्राम का हिस्सा थे। कंडोलकर की टिप्पणी मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत और कई अन्य भाजपा नेताओं द्वारा दिए गए कई भाषणों के बाद आई है, जिन्होंने पश्चिम बंगाल में भाजपा समर्थकों पर अत्याचार के साथ-साथ सोशल मीडिया पर अनर्गल टिप्पणियां करने का आरोप लगाया है, जिसमें दावा किया गया है कि ममता बनर्जी पश्चिम बंगाल में बहुसंख्यक समुदाय के हितों के खिलाफ थीं।

कंडोलकर ने कहा, पश्चिम बंगाल में 19 जिले हैं और उनमें से 16 जिलों में हिंदू बहुसंख्यक आबादी है। यह वह राज्य है जहां हिंदू आबादी 70 फीसदी है और बाकी 30 फीसदी अन्य हैं। कंडोलकर ने ममता बनर्जी को हिंदू विरोधी के रूप में चित्रित करने के भाजपा द्वारा किए गए प्रयासों की निंदा करते हुए कहा, अगर ऐसा है, तो ममता बनर्जी ने वहां तीन मौकों पर चुनाव में भारी जीत कैसे हासिल की और 50 प्रतिशत से अधिक वोट शेयर हासिल करने में कैसे कामयाब रहीं। क्या ममता बनर्जी चुनाव इसलिए जीत गईं, क्योंकि हिंदुओं ने मतदान से परहेज किया?

(आईएएनएस)



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

AllwNews