केरला में हिन्दुओं को गणेश पूजा करने से रोकने के दावे के साथ हैदराबाद का वीडियो शेयर


सोशल मीडिया पर एक वीडियो ख़ूब शेयर किया जा रहा है जिसमें कुछ पुलिसवाले गणपति की मूर्ति उठाकर ले जाते देखे जा सकते हैं. वहां मौजूद भीड़ उन पुलिसवालों को रोकने की कोशिश करती दिख रही है. लोग इसे केरला की घटना बताते हुए लिख रहे हैं, “गणेशोत्सव में केरल में ये हालात हो गए है. कि हिन्दू अपना त्योहार भी नहीं मना सकता है RSS चाहे कितना भी प्रेम दिखा ले केरल मे, लेकिन जेहादी तुमको सिर्फ नफरत ही देगे”

 

गणेशोत्सव में केरल में ये हालात हो गए है हिन्दुओ के
हिन्दू अपना त्योहार भी नही मना सकता है अपने हिन्दुस्थान में👍👍

Posted by Ram Kumar on Saturday, 11 September 2021

फ़ेसबुक पर ये वीडियो कई ग्रुप्स में इसी दावे के साथ शेयर किया गया है.

 

गणेशोत्सव में केरल में ये हालात हो गए है.
कि हिन्दू अपना त्योहार भी नहीं मना सकता है
RSS चाहे कितना भी प्रेम दिखा ले केरल मे, लेकिन जेहादी तुमको सिर्फ नफरत ही देगे।

Posted by हिंदुत्व मेरी पहचान on Sunday, 12 September 2021

ऑल्ट न्यूज़ के व्हाट्सऐप नंबर पर भी इस वीडियो की पड़ताल की रिक्वेस्ट मिली.



फ़ैक्ट-चेक

वीडियो में जो बातें सुनने को मिल रही हैं, वो तेलुगू भाषा में हैं. इस आधार पर जब हमने की-वर्ड्स सर्च किया तो हमें एशियानेट तेलुगू का एक आर्टिकल मिला जिसमें इसे हैदराबाद की घटना बताया गया है. 12 सितम्बर को छपी इस रिपोर्ट में बताया गया है कि कुछ लोगों ने पुलिस को शिकायत की थी कि उन्हें पूजा के कार्यक्रमों से परेशान किया जा रहा था. इसके बाद पुलिस आई और मूर्ति और लोगों को गिरफ़्तार कर ले गयी.

हमने देखा कि फ़ेसबुक पर एक यूज़र ने 10 सितम्बर को इसी घटना का 4 वीडियो अपलोड किया था. यूज़र ने तेलगु में लिखा कि हैदराबाद में एक ग्रुप की शिकायत पर पुलिस ने गणपति स्थापना रोक दी थी.

*పాతబస్తీ లో గణేషుడు అరెస్ట్*

హైదరాబాద్ లో ఓ వర్గం ఫిర్యాదు మేరకు గణపతి ప్రతిష్టాపన అడ్డుకున్న పోలీసులు.

స్వయంగా…

Posted by Venkataramana Arra on Friday, 10 September 2021

पोस्ट किए गए चारों वीडियो में पूरी घटना की जानकारी पता चलती है. कुछ लोग एक सोसाइटी के मैदान में चटाई बिछाकर गणपति पूजा करने की कोशिश कर रहे थे. पुलिस इन लोगों को वहां से हटाने में लगी थी. एक वीडियो में रक्षापुरम कॉलोनी का बोर्ड लगा दिखता है. ये कॉलोनी हैदराबाद के संतोष नगर में है.



हैदराबाद के लोकल पत्रकार शेख यूनुस ने इस घटना का वीडियो फ़ेसबुक पर शेयर करते हुए लिखा कि कुछ हिन्दू राइट विंग के लोग एक निजी सम्पति में ज़बरदस्ती गणेश की मूर्ति स्थापित करने की कोशिश कर रहे थे. शिकायत के बाद पुलिस ने मामले का संज्ञान लिया और लोगों को गिरफ़्तार किया.

 

GANESH BITANE KO LIKER HUWA TENTION IN RAKSHAPURAM CREATE TENTION #VINAYAKA CHATURTHI ,
Hyderabad

Some anti social elements try to communalized Hyderabad city but Hyderabad police Fail them
In Rakshapuram area Santosh police limits some Hindu Right wing’s people forcefully sit Ganesh idol on private property which lead mild tension in Rakshapuram colony but Hyderabad city police control the situation immediately and heavy police deployed in entire Rakshapuram colony and police arrested many Right people and shifted them near by police station

Posted by Shaik younus Reporter on Friday, 10 September 2021

संतोषनगर पुलिस स्टेशन के सब-इंस्पेक्टर ए राजेंद्र ने बूमलाइव को बताया कि इस घटना में कोई सांप्रदायिक ऐंगल नहीं है. SI ने बताया कि असल में वो विवादित ज़मीन है जहां पर गणपति की मूर्ति रखी गई थी. 2 ग्रुप्स उस ज़मीन का दावा करते हैं. हमने लोगों से कहा कि मूर्ति वहां से हटा दें वो उन्होंने हटा दी थी. लेकिन कुछ राजनैतिक कार्यकर्ताओं ने वहां फिर से मूर्ति स्थापति करने की कोशिश की जिस वजह से पुलिस को ज़ोर-ज़बरदस्ती कर लोगों को वहां से हटाना पड़ा.

यानी, हैदराबाद की घटना का वीडियो सांप्रदायिक दावे के साथ केरला का बताकर शेयर किया जा रहा है.


मस्जिद की खुदाई पर हिन्दू देवता नंदी की मूर्ति नहीं मिली, ग़लत दावा वायरल

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

Donate Now

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *